नई दिल्‍ली: महाराष्‍ट्र की सियासत में विरोधी दलों के नेताओं के फोन टैपिंग का आरोप लगाने के बाद राज्‍य के चार प्रमुख दलों शिवसेना, बीजेपी, कांग्रेस और एनसीपी के नेताओं ने एक-दूसरे पर हमले किए हैं. मौजूदा सरकार के गृह मंत्री व एनसीपी नेता अनिल देशमुख ने आरोप लगाया है कि राज्‍य की पूर्ववर्ती देवेंद्र फडणवीस सरकार ने विपक्षी दलों के नेताओं के फोन टैैप करने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया है. इसी क्रम में शिवसेना ने भी अपने नेताओं के फोन टैपिंग का आरोप लगाते हुए बीजेपी पर निशाना साधा है. वहीं, राज्‍य के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने शुुक्रवार को इन आरोपों पर जवाब देते हुए कहा कि ऐसे कभी कोई आदेश बीजेपी सरकार ने दिए थे. यह महाराष्‍ट्र की परंपरा नहीं है. Also Read - West Bengal: PM मोदी के पहुंचने से पहले बवाल, हावड़ा में BJP कार्यर्ताओं पर हमला, TMC वर्कर्स पर आरोप

हमारी सरकार ने कभी भी फोन टैपिंग के आदेश नहीं दिए: देवेंद्र फडणवीस
महाराष्‍ट्र के पूर्व सीएम और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा, विपक्षी दलों के नेताओं की फोन टैपिंग महाराष्‍ट्र की परंपरा नहीं है. हमारी सरकार ने कभी ऐसे आदेश नहीं दिए. वर्तमान सरकार किसी भी जांच को किसी भी एजेंसी से करवाने के लिए स्‍वतंत्र है. यहां तक कि शिवसेना के नेता भी तब राज्‍य के गृह मंत्रालय का हिस्‍सा थे. Also Read - सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती: गृह मंत्री अमित शाह ने नेताजी को दी श्रद्धांजलि, कही ये बात

फोन टैप करने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग: गृह मंत्री अनिल देशमुख
बता दें कि एक दिन पहले गुरुवार को महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने आरोप लगाया था कि पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विपक्षी नेताओं के फोन टैप करने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया और कहा कि इस संबंध में जांच का आदेश दिया गया है. उन्‍होंने मीडियाकर्मियों से कहा था कि राज्य पुलिस विभाग के साइबर सेल को उन विपक्षी नेताओं के फोन टैपिंग की शिकायतों की जांच करने के लिए निर्देशित किया गया है.

होम मिनिस्‍ट्री को फोन टेपिंग की आदत: संजय राउत
शिवसेना नेता व राज्‍यसभा सदस्‍य संजय राउत ने कहा, आजकल राजनीति में फोन टैपिंग की जाती है. मैं इसे ज्‍यादा गंभीरता से नहीं लेता हूं. होम मिनिस्‍ट्री को फोन टेपिंग की आदत है और अपने पर नजर रखने की. लेकिन उनके फोन टैपिंग में संलंग्‍न होने पर भी, हमने महाराष्‍ट्र में सरकार बना ली.

कांग्रेस के शासन काल में भी फोन टेप किए गए थे: राज्‍यमंत्री दीपक केसकर
राज्‍य के गृहमंत्री अनिल देशमुख के बयान के बाद शिवसेना नेता व राज्‍यमंत्री दीपक केसकर ने कहा, यदि किसी नेता का फोन टैप किया गया है तो यह आपत्तिजनक है. यह अच्‍छा है कि आपत्ति उठाई गई है, लेकिन जांच के पूर्व मेरा कोई कमेंट करना ठीक नहीं होगा. उन्‍होंने कहा, जहां तक फोन टैपिंग का सवाल है, यह ज्ञात है कि शिवसेना नेता के सभी फोन टेप किए गए थे, यहां तक कि महाराष्‍ट्र में कांग्रेस के शासन काल में भी.