नई दिल्‍ली: महाराष्‍ट्र में बीजेपी-शिवसेना के बीच सत्‍ता को लेकर जारी संघर्ष के बीच मुंबई में मंगलवार को शिवसेना प्रमुख के विधायक बेटे आदित्‍य ठाकरे को एक बार फिर से अगला सीएम बताने वाले पोस्‍टर नजर आ रहे हैं. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के निवास स्‍थान मातोश्री के बाहर उनके बेटे आदित्‍य ठाकरे के ऐसे पोस्‍टर लगे हुए हैं, जिनमें लिखा है, ”मेरा विधायक, मेरा मुख्‍यमंत्री.” बताया जा रहा है कि ये पोस्‍टर शिवसेना के पार्षद हाजी हलीम खान ने लगवाए हैं.

बता दें कि इससे पहले अगर चल रहे सियासी घटनाक्रम पर नजर डाले तो सवाल उठता है कि क्‍या शिवसेना के विधायक आदित्‍य ठाकरे को सीएम बनाने की तैयारी कर ली गई है.

बता दें कि इसी तरह के पोस्‍टर पिछले महीने मुंबई में 25 अक्‍टूबर को वर्ली में लगाए गए थे. ये पोस्‍टर ठीक चुनाव परिणाम आने के एक दिन बाद लगाए गए थे. महाराष्‍ट्र विधानसभा का चुनाव 21 अक्‍टूबर को कराया गया था, जिसका परिणाम 24 अक्‍टूबर को आया था.

बीजेपी शिवसेना गठबंधन को 161 सीटे मिली हैं, लेकिन दोनों पार्टियों के बीच मुख्‍यमंत्री के पद को लेकर 50-50 फार्मूले को लेकर सत्‍ता का संघर्ष छिड़ा हुआ है.

सोनिया-पवार व शाह-फड़णवीस मुलाकात, लेकि‍न स्थिति स्पष्ट नहीं
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सोमवार को अमित शाह से मुलाकात की वहीं एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की, जबकि शिवसेना नेता संजय राउत ने राज्यपाल से भेंट की. लेकिन इसके बाद भी राज्य में नई सरकार के गठन को लेकर कोई स्पष्ट स्थिति बनती नहीं दिखी हालांकि विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित हुए 12 दिन हो चुके हैं.दिल्ली में सोनिया गांधी के साथ मुलाकात के बाद पवार ने राज्य का मुख्यमंत्री बनने की किसी भी संभावना से इनकार कर दिया.

पवार बोले- हमें विपक्ष में बैठने का जनादेश मिला है
यह पूछे जाने पर कि क्या एनसीपी शिवसेना को समर्थन देने पर विचार कर रही है, पवार ने कहा,” शिवसेना की ओर से किसी ने भी मुझसे इस बारे में संपर्क नहीं किया है. हमें विपक्ष में बैठने का जनादेश मिला है. इस होड़ में शामिल होने के लिए हमारे पास पर्याप्त संख्या नहीं है.”

सरकार गठन को लेकर अब गेंद शिवसेना के पाले में है
महाराष्ट्र में सरकार गठन पर संशय के बीच भाजपा सूत्रों ने सोमवार को कहा कि पार्टी इस बात का इंतजार करेगी कि अगले कुछ दिनों में स्थिति क्या मोड़ लेती है, क्योंकि अब गेंद उसके सहयोगी शिवसेना के पाले में है. बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने राष्ट्रीय राजधानी में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह समेत पार्टी के राष्ट्रीय नेताओं से कई बैठकें कीं. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में जल्द से जल्द सरकार बनाने की जरूरत है और उन्हें विश्वास है कि ऐसा कर लिया जाएगा.

बीजेपी वेट एंड वॉच करेगी
पार्टी सूत्रों ने कहा कि पार्टी गठबंधन में बनी हुई है और उसने हमेशा गठबंधन धर्म की भावना से काम किया है, जहां तक महाराष्ट्र में सरकार गठन का सवाल है तो गेंद शिवेसना के पाले में है. सूत्रों ने कहा कि भाजपा इंतजार करेगी और देखेगी कि अगले कुछ दिनों में स्थिति क्या मोड़ लेती है.