नागपुर: महाराष्‍ट्र ने नागपुर जिले के कटोल में एक छात्रावास के अधीक्षक को 14 वर्षीय दिव्यांग लड़की के साथ बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने बताया कि छात्रावास के ने कई बार उसके साथ रेप किया. जब लड़की गर्भवती हो गई तो पीड़िता की मां एक नर्स से अपने घर पर गर्भपात कराया.” Also Read - मुंबई: कोरोना महामारी के चलते इस साल स्थापित नहीं की जाएगी लाल बाग के राजा की मूर्ति

कटोल थाना निरीक्षक महादेव आचरेकर ने कहा कि पीड़िता का घर पर ही जबरन गर्भपात कराने के आरोप में पीड़िता की मां और एक नर्स को भी गिरफ्तार किया गया है. Also Read - दुनिया का सबसे खतरनाक पुलिस अधिकारी, जिसने स्वीकारा- मैंने किए दर्जनों रेप, कई हत्याएं, और...

थाना निरीक्षक ने बताया, ”कक्षा छह में पढ़ने वाली पीड़िता पिछले पांच वर्षों से छात्रावास में रह रही थी. इस साल मार्च से ही छात्रावास के अधीक्षक राजेंद्र कालबंदे (44) ने कई बार उसके साथ बलात्कार किया. जब वह गर्भवती हो गई तो पीड़िता की मां ने सिंधु देहानकर नाम की एक नर्स से अपने घर पर गर्भपात कराया.” Also Read - महाराष्ट्र में हर दिन टूट रहा रिकॉर्ड! 24 घंटे में कोरोना के सर्वाधिक 5,493 नए मामले सामनेए, 156 की मौत

गर्भपात के बारे में सूचना मिलने पर पुलिस ने तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया और उनके खिलाफ आईपीसी, पॉक्सो अधिनियम और अनुसूचित जाति/जनजाति अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है.