मुंबई: महाराष्ट्र सचिवालय में एख बड़ी सुरक्षा चूक सामने आई है. यहां उद्धव ठाकरे ने जिस फाइल पर हस्ताक्षर किया था, उसी फाइल के साथ छेड़छाड़ की गई है. हालांकि इस मामले में मरीन ड्राइव थाने में फर्जीवाडे को लेकर FIR दर्ज कराया जा चुका है. टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के मुताबिक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक सुप्रीनटेंडिंग इंजीनियर के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए थे. उद्धव ठाकरे ने जिस फाइल पर हस्ताक्षर कर ये आदेश जारी किए थे उस फाइल पर लाल स्याही से लिख दिया गया कि जांच को बंद कर देना चाहिए.Also Read - Maharashtra: नासिक में ऑनलाइन क्लास के लिए मोबाइल नहीं होने पर 11वीं की छात्रा ने की खुदकुशी

बता दें कि डीसीपी शशिकुमार मीणा जोन 1 के ने बताया कि फिलहाल अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और मामले की जांच की जा रही है. बता दें कि इस मामले में कई पीएडब्ल्यूडी इंजीनियरों के खिलाफ विभागीय जांच का सुझाव दिया गया था. यह जांच जेजे स्कूल ऑफ आर्ट्स बिल्डिंग में किए गए कामों और उनकी अनियमितताओं को लेकर है. Also Read - Maharashtra News: महाराष्ट्र में पुल से गिरी कार, BJP MLA के बेटे सहित 7 मेडिकल छात्रों की दर्दनाक मौत

इस मामले की जांच को मंजूरी तब दी गई जब महाराष्ट्र में महाविकास अघाड़ी की सरकार आई. इस दौरान पीडब्ल्यूडी अधिकारी अशोक चव्हाण ने जांच को आगे बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री को प्रस्ताव भेजा था. खबरों के मुताबिक जब यह फाइल PWD विभाग में वापस आई तो चव्हाण को हैरानी इस बात की थी कि मुख्यमंत्री के प्रस्ताव में बदलाव कर दिया गया है. इसी मामले के प्रकाश में आने के बाद मरीन ड्राइव थाने में फर्जीवाड़े को लेकर मामला दर्ज कराया गया है जिसकी जांच जारी है. Also Read - Mumbai Local Train Latest News: मुंबई में 14 घंटे तक नहीं चलेंगी लंबी दूरी की लोकल ट्रेनें, जानिए क्या है वजह