मुंबई: महाराष्ट्र प्रदेश महिला आयोग ने भाजपा विधायक राम कदम को उनकी उस कथित टिप्पणी पर नोटिस जारी कर आठ दिन में जवाब मांगा है जिसमें उन्होंने युवाओं से कहा था कि अगर उनकी पसंद की लड़की उनका प्रस्ताव स्वीकार नहीं करती तब वह उसका ‘अपहरण’ कर लेते. Also Read - लोगों को लाने के लिए विमान का प्रयोग तो गरीबों के लिए बस का क्यों नहीं : कांग्रेस

विधायक ने अपनी विवादास्पद टिप्पणी पर गुरूवार को माफी मांगी है. यह टिप्पणी उन्होंने सोमवार रात अपने उपनगरीय घाटकोपर विधानसभा क्षेत्र में ‘दही हांडी’ कार्यक्रम के दौरान की थी. प्रदेश महिला आयोग ने विधायक की टिप्पणी को लेकर विभिन्न रिपोर्टो पर स्वत: संज्ञान लेते हुए बुधवार को नोटिस जारी किया था. आयोग की अध्यक्ष विजया रत्नाकर ने बताया, ‘‘हमने कदम को नोटिस जारी किया है और आठ दिन की अवधि के भीतर अपना पक्ष रखने को कहा है.’’ Also Read - राहुल गांधी ने सरकार को सराहा, कहा- आर्थिक पैकेज की घोषणा सही दिशा में पहला कदम

बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल, युवाओं से कहा अपहरण कर पसंद की लड़की से कराउंगा आपकी शादी Also Read - Lockdown: पब्लिक को सब्‍जियां बांटना कांग्रेस विधायक को पड़ा महंगा, केस दर्ज

वहीं, कदम ने अपनी उस टिप्पणी के लिए माफी मांगी है जिससे ‘महिलाओं की भावनायें आहत’ हुई हैं. माफी के संबंध में उन्होंने मराठी में ट्वीट किया है.

अचानक दौरे पर पहुंचे कलेक्टर ने देखी गंदगी तो सबके सामने खुद की सफाई

उधर, भाजपा की केंद्र और प्रदेश में गठबंधन सहयोगी शिवसेना और महाराष्ट्र में विपक्षी दलों ने कदम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है और उनकी तुलना रावण से की है. विपक्ष ने चेतावनी दी है कि यदि विधायक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जायेगी तो यह मामला प्रदेश विधानसभा के शीत सत्र के दौरान उठाया जायेगा.

कोरेगांव-भीमा हिंसा: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, 12 सितंबर तक घरों में ही नजरबंद रहेंगे गिरफ्तार कार्यकर्ता

हालांकि, भाजपा प्रदेश प्रवक्ता माधव भंडारी ने कहा कि विधायक द्वारा माफी मांगे जाने के बाद मामला समाप्त हो गया है.