नई दिल्‍ली: बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत की सुसाइड केस के मामले में अभी तक 37 लोगों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं. महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि इस मामले में अगर जरूरत पड़ी तो करण जौहर को भी बुलाया जाएगा. करण जौहर के मैनेजर को बुलाया जा चुका है. महेश भट्ट भी अपना बयान एक-दो दिन में दर्ज कराएंगे.Also Read - EPFO Latest Update: EPFO ने नवंबर 2021 में जोड़े 13.95 लाख ग्राहक, 8.28 लाख लोग पहली बार बने मेंबर

एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत के मामले में महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री ने कहा- अभी तक 37 लोगों के स्‍टेटमेंट दर्ज किए जा चुके हैं, महेश भट्ट एक या दो दिन में अपना बयान दर्ज कराएंगे. कंगना रनौत को अपना बयान दर्ज कराने के लिए सम्‍मन भेजा गया था. करण जौहर के मैनेजर को बुलाया गया था, अगर जरूरत हुई तो जौहर को भी बुलाया जाएगा. Also Read - Maharashtra Local Polls Result: महाराष्ट्र नगर पंचायत चुनाव के नतीजे में BJP सबसे बड़ी पार्टी, जानें किसे मिली कितनी सीटें

Also Read - Driving Licence: मुंबई में अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना होगा आसान! RTO में इस पहल की हो रही शुरुआत

बता दें कि पुलिस इस मामले में अब तक 38 से अधिक लोगों के बयान दर्ज कर चुकी है, जिनमें राजपूत के परिजन और अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती और संजना सांघी समेत उनके दोस्त शामिल हैं. फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली और यशराज फिल्म्स के कर्ताधर्ता आदित्य चोपड़ा ने भी अपने बयान दर्ज करा चुके हैं.

मुंबई पुलिस ने कंगना को बयान दर्ज करने के लिए बुलाया
मुंबई पुलिस ने शुक्रवार को अभिनेत्री कंगना रनौत को सम्मन जारी कर उन्हें सुशांत सिंह राजपूत खुदकुशी मामले में अपने बयान दर्ज कराने को कहा था. बांद्रा पुलिस इन आरोपों में जांच कर रही है कि सुशांत सिंह राजपूत ने अवसाद के साथ-साथ पेशागत प्रतिद्वंद्विता के कारण आत्महत्या का कदम उठाया.

कंगना ने बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद और गुटबाजी के आरोप लगाये थे
राजपूत ने पिछले महीने मुंबई में अपने अपार्टमेंट में खुदकुशी कर ली थी, जिसके बाद कंगना ने बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद और गुटबाजी के आरोप लगाये थे. उन्होंने आरोप लगाया था कि वह भी इसकी पीड़ित रही हैं. पुलिस के मुताबिक कंगना इस समय हिमाचल प्रदेश के मनाली में हैं.

पुलिस ने कंगना को मुंबई बुलाने के प्रयास किए थे
पुलिस अधिकारी ने कहा, ”राजपूत के अवसाद में होने की वजह को समझने के प्रयास में पुलिस कंगना रनौत से कुछ जानकारी प्राप्त करना चाहती है. उसी अनुसार हमने शुक्रवार को उनके मनाली स्थित आवास पर डाक से सम्मन भेजे हैं.” पुलिस कंगना से राजपूत के इस तरह के कदम उठाने के पीछे के संभावित कारणों के बारे में जानकारी देने को कह सकती है. पुलिस ने तीन जुलाई को भी कंगना रनौत को मुंबई बुलाने और उनके बयान दर्ज करने के प्रयास किए थे.