पुणे: महाराष्ट्र की शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस गठबंधन सरकार (Shiv Sena-NCP-Congress coalition government) के मुख्य शिल्पी माने जाने वाले एनसीपी अध्यक्ष (NCP president) शरद पवार (Sharad Pawar) ने गुरुवार को कहा कि यद्यपि अनेक लोगों ने सोचा कि वह सक्रिय राजनीति से सेवानिवृत्त हो जाएंगे, लेकिन राज्य के लोगों, खासकर युवाओं ने ऐसा नहीं होने दिया. वह अपने गृह क्षेत्र बारामती में कृषि विज्ञान केंद्र में कृषि प्रदर्शनी के उद्घाटन अवसर पर बोल रहे थे. इस दौरान मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी मौजूद थे. Also Read - शरद पवार को अगले दो दिन में अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी: उपमुख्यमंत्री अजित पवार

पवार के अपना भाषण शुरू करने से पहले ठाकरे और उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने पुष्प गुच्छ देकर उनका स्वागत किया. इस पर पवार ने हल्के-फुल्के अंदाज में कहा, ”इससे पहले कि मैं अपना भाषण शुरू करता, उन्होंने ( उद्धव ठाकरे और अजित पवार) मुझे पुष्प गुच्छ थमा दिया…ऐसा प्रतीत होता है कि उन्होंने मुझे रिटायर करने का निर्णय कर लिया है. मुझे इस पर कोई आपत्ति नहीं है.” Also Read - Maharashtra Lockdown News: महाराष्ट्र में पाबंदियों की तैयारियां शुरू! स्वास्थ्य मंत्री ने बताया- लॉकडाउन की कब हो सकती है घोषणा...

शरद पवार ने कहा, ”अनेक लोग सोचते थे कि मैं (सक्रिय राजनीति से) रिटायर हो जाऊंगा, लेकिन ऐसा हुआ नहीं. असल में, महाराष्ट्र के लोगों और युवाओं ने ऐसा नहीं होने दिया.” Also Read - Maharashtra Lockdown News: लॉकडाउन लगने पर लोगों को दिया जाएगा पर्याप्त समय, जानें महाराष्ट्र सरकार के मंत्री के बयान के क्या हैं मायने...

पवार ने अपने भाषण में यह भी कहा कि पूरी दुनिया में कृषि के तरीके बदल रहे हैं और नवोन्मेषी प्रयोगों से उत्पादन बढ़ा है.

पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा, भारत जैसे अधिक आबादी वाले देश में आम लोगों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए खेती और कृषि अत्यंत महत्वपूर्ण है. इसीलिए, परिवर्तन लाने, सुधार करने और अनुसंधान को प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है. हमें यह सुनिश्चित करने की भी जरूरत है कि ये चीजें किसानों के द्वार तक पहुंचें.