औरंगाबाद/ मुंबई: महाराष्ट्र में मराठाओं को आरक्षण देने की मांग को लेकर जारी विरोध प्रदर्शन ने मंगलवार को हिंसक रूप अख्तियार कर लिया. जिसकी चपेट में आकर एक पुलिसकर्मी और दो अन्य लोग घायल हो गए. राज्य के विभिन्न हिस्सों में मराठा क्रांति द्वारा विरोध प्रदर्शन किए गए. बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों ने औरंगाबाद जिले के कैगांव में एक दमकल वाहन में आग लगा दी.मराठा समाज को रिजर्वेशन की मांग को लेकर महाराष्ट्र में मंगलवार को औरंगाबाद के देवगांव रांगारी में तीन युवकों ने आत्महत्या करने की कोशिश की है.

मराठाओं का महाराष्ट्र बंद आज, एक सुसाइड के बाद अब 3 युवकों ने की खुदकुशी की कोशिश

बता दें कि औरंगाबाद जिले में सोमवार की शाम एक 28 साल के युवक काकासाहेब दत्तात्रेय शिंदे ने सोमवार की शाम आरक्षण की मांग को लेकर गोदावरी नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली थी. शिंदे की मौत के प्रतिक्रिया के चलते राज्य में कई जगहों पर बंद किया गया, सड़क और रेल मार्गो में व्यवधान उत्पन्न किया गया. कई जगह जुलूस निकाले गए और आगजनी की घटनाएं हुईं.महाराष्ट्र में आरक्षण की मांग कर रहे मराठा क्रांति मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने अपने विरोध के दौरान औरंगाबाद के गंगापुर में एक ट्रक को आग लगा दी.

शिससेना सांसद पर पथराव, कई जगह आगजनी, तीन ने सुसाइड की कोशिश की

– औरंगाबाद के शिवसेना सांसद चंद्रकांत खैरे के वाहन पर लोगों ने पथराव कर दिया

– ये हमला तब हुआ जब वे आरक्षण की मांग में सुसाइड करने वाले युवक की अंत्येष्ठि से लौट रहे थे
– मंगलवार को महाराष्ट्र में तीन युवकों ने आत्महत्या करने की कोशिश की है
– औरंगाबाद के देवगांव रांगारी में जयंत सोनवने और गुड्डू सोनवने ने नदी में कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की है
– जगन्नाथ सोनवने ने जहर खाकर जान देने का प्रयास किया है
– औरंगाबाद में दमकल विभाग के एक वाहन को लगा दी गई
– हिंगोली में भी एक पुलिस जीप में आग लगा दी गई
– कई मराठा समूहों ने नौ अगस्त को अगस्त क्रांति दिवस के रूप में मनाने के लिए महाराष्ट्र बंद की घोषणा की है

सियासत तेज
– यह मामला शिवसेना सांसद विनायक राउत ने लोकसभा में भी उठाया
– कांग्रेस के अशोक चव्हाण और सचिन सावंत, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के जितेंद्र अव्हाड और अन्य समेत सभी बड़े राजनीतिक दलों ने सत्तारूढ़ भाजपा सरकार से मराठा आरक्षण के मुद्दे को तत्काल सुलझाने का आग्रह किया है.

मंत्री ने की शांति की अपील
राज्य मंत्री दीपक केसरकर ने कहा, ”मैं लोगों से अपील करता हूं, कृपया शांति बनाए रखें, हम इसे शांतिपूर्ण वार्तालाप से हल कर सकते हैं, वारा के लिए पंढरपुर में 15 लाख तीर्थयात्री हैं, उन्हें अपने घर वापस जाने में समस्या का सामना नहीं करना चाहिए”.

पुल से गोदावरी में कूदकर युवक ने दी थी जान
पुलिस ने बताया कि औरंगाबाद जिले के कायगांव निवासी 27 वर्षीय काकासाहब शिंदे एक पुल से गोदावरी नदी में कूद गया था. उसे नदी से निकालकर अस्पताल ले जाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

सीएम नहीं गए पंडरपुर की यात्रा में
यह घटना ऐसे समय में हुई है जब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पंढरपुर के मंदिर की मंगलवार की अपनी यात्रा मराठा संगठनों की इस धमकी के बाद स्थगित कर दी कि वे कार्यक्रम में बाधा पहुंचाएंगे. शिंदे की मौत के बाद महाराष्ट्र के कई हिस्सों में नए सिरे से प्रदर्शन शुरू हो गया है और विपक्ष के नेताओं ने बीजेपी नीत राज्य सरकार पर ठीकरा फोड़ने की कोशिश की है.

मराठा समाज से माफी मांगेंं सीएम देवेन्द्र फडणवीस
आरक्षण की मांग करने वाले मराठा समूह के संयोजक रविन्द्र पाटिल ने कहा, ”जब तक मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस मराठा समाज से माफी नहीं मांग लेते हम अपना प्रर्दशन जारी रखेंगे. हम औरंगाबाद और राज्य के अन्य हिस्सों में आज बंद रखेंगे.” कुछ मराठा संगठनों ने भविष्य में मुंबई में भी प्रदर्शन करने की योजना बनाई है. (इनपुट- एजेंसी)