पालघर: महाराष्ट्र के पालघर जिले में देर रात चार बार भूकंप के झटके महसूस किए गए. अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार भूकंप के झटकों के चलते दहानू के वासवलापाडा में एक मकान के ढह जाने से 55 साल के एक व्यक्ति की मौत हो गई. लगातार भूकंप के झटकों से लोगों में काफी दहशत है.Also Read - मुंबई: कुर्ला में आवासीय इमारत ढही, मृतकों की संख्या बढ़कर 19 हुई, पीएम ने दुख जताया

पालघर आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के प्रमुख विवेकानंद कदम ने बताया कि दहानू और तलसारी तालुकों में देर रात एक बजकर तीन मिनट पर 3.8 और देर रात सवा एक बजे 3.6 तीव्रता का भूकंप आया. इस बीच दहानू, तलसारी और बोइसर में देर रात एक बजकर तीन मिनट से रात सवा एक बजे के बीच 2.9 और 2.8 तीव्रता के दो और भूकंप आए. विवेकानंद कदम ने बताया कि पालघर में बुधवार को भी 2.8 तीव्रता का भूकंप आया था. उन्होंने बताया कि बुधवार से जिले में सात बार भूकंप आ चुका है. विवेकानंद ने बताया कि सभी भूकंपों का केंद्र डुंडलवाड़ी गांव में करीब 10 किलोमीटर गहराई में था. Also Read - महाराष्ट्र में सियासी संकट के बीच राज्यपाल कोश्यारी से मिले फडणवीस, कहा- उद्धव सरकार ने खोया बहुमत; फ्लोर टेस्ट की मांग

अधिकारी ने बताया कि भूकंप आने के दौरान बारिश होने के कारण लोगों को अपने घरों से बाहर निकलने में दिक्कत हुई. दहानू में पिछले साल नवंबर से इस प्रकार के भूकंप आ रहे हैं. इनमें से अधिकतर का केंद्र डुंडलवाड़ी गांव में था. Also Read - गुवाहाटी में डेरा डाले बागी विधायकों से सीएम उद्धव की भावुक अपील, 'वापस आएं और बात करें- मुझे आपकी चिंता है'

वहीं, हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में भी बुधवार रात मध्यम तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप में किसी के हताहत होने या जानमाल के नुकसान की तत्काल कोई खबर नहीं है. विभाग ने बताया कि जिले में देर रात 12.47 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए. जनजातीय जिले किन्नौर में दो दिन पहले मध्यम तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए थे.