मुंबई: महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना को चकित करते हुए महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के पदाधिकारी ने गुरुवार को घोषणा कि कि मनसे प्रमुख राज ठाकरे अब नए ‘हिंदू हृदय सम्राट’ होंगे. शिवसेना के संस्थापक दिवंगत बालासाहेब ठाकरे को आमतौर पर ‘हिंदू हृदयसम्राट’ के रूप में जाना जाता था.

गोरेगांव के एनएसई ग्राउंड में पार्टी के बड़े आयोजन में मनसे के ठाणे अध्यक्ष अविनाश जाधव ने बालासाहेब के भतीजे राज को नया ‘हिंदू हृदयसम्राट’ बताया, जिसका जोरदार तालियों से स्वागत किया गया. यह घोषणा उस दिन की गई है जब शिवसेना अपने संस्थापक व संरक्षक की 94वीं जयंती मना रही है और उनके बेटे और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ भव्य समारोह का आयोजन किया है. यह घटनाक्रम ऐसे समय में सामने आया है जब शिवसेना-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी- कांग्रेस ने मिलकर महा विकास अघाड़ी (एमवीए) गठबंधन बनाया है और इसके प्रमुख उद्धव ठाकरे हैं, जो राज ठाकरे के चचेरे भाई है.

इस पर पलटवार करते हुए शिवसेना के वरिष्ठ नेता अनिल परब ने कहा कि केवल दिवंगत बाला साहेब ठाकरे ही ‘हिंदू हृदय सम्राट’ हैं और कोई और उनकी जगह लेने का दावा नहीं कर सकता, लेकिन उनके भतीजे राज ठाकरे के उपाधि के ‘हाईजैक’ करने पर उन्होंने टिप्पणी से इनकार कर दिया. मनसे अब विपक्षी भारतीय जनता पार्टी के साथ तालमेल बिठा रही है और भाजपा से शिवसेना के अलग होने के बाद ‘हिंदुत्व’ की रिक्तता को भरने का प्रयास कर रही है.

(इनपुट-आईएएनएस)