मुंबई: एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी का शव बरामद कर लिया गया है. वह पिछले पांच दिन से लापता थे. 39 साल के सिद्धार्थ संघवी 5 सितंबर को लापता हो गए थे. वह अपने लोअर परेल स्थित ऑफिस से शाम में घर के लिए निकले थे, लेकिन मालाबार हिल्स के एक अपार्टमेंट में स्थित अपने घर नहीं पहुंचे थे. बाद में उनकी कार नवीं मुंबई इलाके में मिली थी. पुलिस ने शव मिलने की अभी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है. सटीक पहचान के लिए सिद्धार्थ के माता-पिता का डीएनए टेस्ट कराया जा रहा है.

पुलिस ने एक को किया अरेस्ट
इस मामले को लेकर सरफराज शेख नामक शख्स को अरेस्ट किया गया है. उनके अलावा और चार लोगों को अरेस्ट किया गया है. सभी से पूछताछ की जा रही है. बताया जा रहा है कि ऑफिस के ही कुछ लोग सिद्धार्थ की ओहदे और सैलरी पैकेज के चलते ईर्ष्या रखते थे. इसीलिए हत्या की योजना बनाई गई.

पत्नी ने बच्चों को मुंबई ले जाने से किया मना, पति ने बीच चौराहे पर कर दी हत्या

कार की सीट पर मिले थे खून के निशान
पुलिस ने बताया कि सिद्धार्थ अपनी पत्नी व परिवार के अन्य सदस्यों के साथ मलाबार हिल इलाके में रहते थे. 5 सितंबर को सिद्धार्थ ऑफिस से निकले और लापता हो गए. घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने उन्हें फोन किया, लेकिन फोन स्विच ऑफ हो गया. इसके बाद अगले दिन सिद्धार्थ की कार नवीं मुंबई के कोपरखैरेन इलाके में एक बिल्डिंग में नीचे मिली. कार की सीट पर खून के निशान थे. इसके बाद आज उनका शव भी बरामद कर लिया गया है. पुलिस ने बताया कि घटना की जांच दो टीमें कर रही हैं.