मुंबई: एनसीपी को झटका देते हुए उसकी मुंबई इकाई के प्रमुख एवं महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री सचिन अहिर गुरुवारको शिवसेना में शामिल हो गए. शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे और युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने अहिर का स्वागत किया. राज्य में पूर्ववर्ती कांग्रेस-राकांपा गठबंधन सरकार में मंत्री रहे अहिर शरद पवार नीत पार्टी के 1999 में गठन के बाद से उससे जुड़े हुए थे.Also Read - Maharashtra Cinemas theaters Reopen: महाराष्ट्र में 22 अक्टूबर से खुलेंगे सिनेमा और थिएटर, इन नियमों का करना होगा पालन

सचिन अहिर ने 1999 से 2009 तक मुंबई में शिवड़ी विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया और उन्हें बाद में वर्ली से चुना गया. वह 2014 में शिवसेना के सुनील शिंदे से विधानसभा चुनाव हार गए थे. अहिर ने कहा कि उनके मन में राकांपा के लिए कोई दुर्भावना नहीं है. उन्होंने कहा, लेकिन मौजूदा हालात को देखते हुए कुछ अपरिहार्य राजनीतिक फैसले लेने पड़े.’ Also Read - Maharashtra Unlock Update: उद्धव सरकार का बड़ा फैसला, महाराष्ट्र में इस तारीख से खुलेंगे धार्मिक स्थल; जानें गाइडलाइंस

Also Read - Maharashtra Lockdown Update: कोरोना नियमों के उल्लंघन पर नवी मुंबई के तीन बार पर 50-50 हजार रुपये का जुर्माना

अहिर ने कहा कि कुछ दिन पहले वह एक सामाजिक समारोह में आदित्य ठाकरे से मिले थे, जिन्होंने उनसे कहा था कि शिवसेना को उनके जैसे नेताओं की आवश्यकता है जो शहरी राजनीति से अच्छी तरह वाकिफ हों.

एनसीपी से शिवसेना में आए अहिर ने कहा, राज्य में अधिकतर नगर निगमों में शिवसेना सत्ता में है. मैं शहरों के विकास के लिए एक मंत्री के तौर पर मिले अनुभव का प्रयोग कर सकता हूं, इसलिए मैंने सत्ता में रह कर विकास के लिए काम करने का निर्णय लिया. अहिर ने कहा कि इस संबंध में जल्द फैसला लिया जाएगा कि वह आगामी विधानसभा चुनाव में वर्ली से खड़े होंगे या नहीं. राज्य में सितंबर-अक्टूबर में चुनाव होने हैं.