मुंबई: महाराष्ट्र के नासिक जिले में भू अभिलेख विभाग के एक अधिकारी को कथित तौर पर रिश्वत के रूप में सादे कागजों का बंडल लेते हुए गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने शुक्रवार को नासिक के येवला नगर में यह कार्रवाई की. Also Read - अगर सरकार हां करे, प्रवासियों को दिल्ली,मुंबई से पटना छोड़ आएंगे : स्पाइसजेट

अब सेक्स की डिमांड मानी जाएगी रिश्वत, नए एंंटी करप्शन लॉ के तहत होगी 7 साल की कैद Also Read - COVID19: मुंबई की यह मुस्लिम फैमिली हर रोज 800 से ज्‍यादा भूखे लोगों को फ्री खाना खिला रही

पुलिस अधिकारी ने बताया कि भू अभिलेख विभाग के उपाधीक्षक मुरलीधर ठाकरे (51) को कागजों का जस्ता लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया. उन्होंने बताया कि ठाकरे ने 36 वर्षीय शिकायतकर्ता से उसके जमीन से संबंधित दस्तावेज देने के एवज में प्रिंटआउट के लिए कागजों का बंडल मांगा था.’ Also Read - कोरोना का खौफ, एक व्यक्ति ने लॉकडाउन के दौरान घर से बाहर जाने पर छोटे भाई को मार डाला

मोदी और अंबानी ने रक्षा बलों पर 130,000 करोड़ की ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की: राहुल गांधी

पुलिस ने बताया कि ठाकरे ने शिकायतकर्ता को दस्तावेज के लिए आधिकारिक शुल्क का भुगतान करने के लिए कहा. इसके बाद जब कार्यालय में कोई सादा कागज नहीं मिला तो उन्होंने शिकायतकर्ता को प्रिंटआउट के लिये सादे कागजों का बंडल लाने को कहा. उन्होंने बताया कि इसके बाद शिकायतकर्ता ने नासिक इकाई की एसीबी से संपर्क किया. ठाकरे को कागज का बंडल लेते रंगे हाथ पकड़ लिया गया.