Beheaded corpse case in Mumbai: मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने एक व्यक्ति की एक हत्या के मामले (murder case) में मुंबई के सायन संभाग के सहायक पुलिस आयुक्त (ACP) के ड्राइवर (Mumbai Police ACP`s Driver) के तौर पर काम कर रहे एक कॉन्स्टेबल (Police constable) और उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया है. एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि मृतक की सिरकटी लाश (Beheaded corpse case) पिछले महीने मिली थी.Also Read - समीर वानखेड़े ने मुंबई पुलिस कमिश्‍नर को लिखा पत्र, मुझे गलत उद्देश्यों से फंसाने के लिए कोई कानूनी कार्रवाई न की जाए

पुलिस अधिकारी ने बताया कि मुंबई के सायन संभाग के सहायक पुलिस आयुक्त (ACP) के ड्राइवर शिवशंकर गायकवाड़ और उसकी पत्नी मोनाली के तौर पर पहचाने गए आरोपियों को शनिवार देर रात गिरफ्तार किया गया. दोनों वर्ली पुलिस क्वार्टर में रहते थे. Also Read - नवाब मलिक ने फिर समीर वानखेड़े पर हमला बोला- जब से NCB में आए हैं, वे पहले ही दिन से फिल्म इंडस्‍ट्री को टारगेट कर रहे

अधिकारी ने बताया कि 30 सितंबर को, एक व्यक्ति की सिरकटी लाश सेंट्रल मुंबई के एंटॉप हिल इलाके के सेक्टर सात में प्लास्टिक के थैले में मिली थी, जिसपर जलने और कटने के निशान थे. यह जगह इलाके के सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) के कार्यालय से ज्यादा दूर नहीं है. उन्होंने बताया कि मृतक के हाथ-पैर काट दिए गए थे और उसकी लाश जलाने की कोशिश की गई थी. Also Read - बॉलीवुड एक्‍ट्रेस नोरा फतेही को लग्जरी कार गिफ्ट में दी थी, ठगी के आरोपी सुकेश चंद्रशेखर का दावा

बाद में अपराध शाखा ने उपलब्ध जानकारी और तकनीकी साक्ष्य के आधार पर मृतक की पहचान सोलापुर के दादा जगदाले के रूप में की.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि मामले की आगे की जांच के आधार पर, पुलिस ने कॉन्स्टेबल और उसकी पत्नी को व्यक्ति की कथित तौर पर हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया. साथ ही बताया कि मृतक का सिर अभी तक बरामद नहीं हुआ है और हत्या के पीछे के मकसद का अभी तक पता नहीं चल पाया है. इस संबंध में आईपीसी की धारा 302 (मर्डर) के तहत आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया.