Mumbai Rain: रात भर हुई भारी बारिश ने मुंबई और मुंबई महानगरीय क्षेत्र में परेशानी खड़ी कर दी है. भारी बारिश के कारण सड़क और रेल यातायात गंभीर रूप से बाधित हुए हैं और आवश्यक सेवा दे रहे लोगों के आवागमन को प्रभावित किया है. यह जानकारी अधिकारियों ने बुधवार को दी. आईएमडी के अनुसार, दक्षिण मुंबई (कोलाबा) में सुबह 8 बजे तक 14.78 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई, जबकि उपनगरों (सांताक्रूज) में मंगलवार को रात 8 बजे से अब तक 28.64 सेंटीमीटर बारिश हुई, लेकिन ज्यादातर बारिश रात के दौरान हुई जो औसतन 36.03 सेंटीमीटर था. आईएमडी मुंबई ने आगामी दिनों में भारी बारिश की भविष्यवाणी की है, इसके साथ ही अधिकारियों ने लोगों से आग्रह किया है कि जब तक आवश्यक न हो घर से बाहर न निकलें. Also Read - Hyderabad Flood: बाढ़ प्रभावित परिवारों को मिलेगी वित्तीय सहायता, मंत्री ने की घोषणा

बॉम्बे हाईकोर्ट ने अवकाश की घोषणा कर दी है, ऐसे में बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शोविक की जमानत याचिका जैसे कुछ हाई-प्रोफाइल मामलों पर फैसला अब गुरुवार को आने की उम्मीद है. वहीं, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी), जिसने ग्लैमर वल्र्ड के कई हस्तियों को ड्रग मामले में पूछताछ के लिए समन भेजा है, उनका कहना है कि पूछताछ पर निर्णय ग्राउंड सिचुएशन के आधार पर लिया जाएगा. बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) आपदा नियंत्रण ने कहा कि दक्षिण व सेंट्रल मुंबई के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों जैसे सायन, माटुंगा, कुर्ला, चूनाभट्टी, मझगांव, मस्जिद बंदर और बाइकुला से भारी जल-जमाव की सूचना मिली है. उपनगरों में कई इलाकों के अलावा गोरेगांव, मलाड, दहिसर, कुर्ला, घाटकोपर, मुलुंद में जलभराव होने की जानकारी सामने आई है. Also Read - Weather Report: महाराष्ट्र में बारिश और बाढ़ से 48 लोगों की मौत, पीएम मोदी ने उद्धव ठाकरे से की बात, कर्नाटक में गंभीर हालात

वहीं, मीठी नदी के जलस्तर में खतरनाक वृद्धि के बाद कुर्ला के क्रांति नगर झुग्गियों से करीब 50 लोगों को बुधवार तड़के सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया गया और स्थिति में ढील के बाद उन्हें घर वापस भेज दिया गया. सीआर के मुख्य प्रवक्ता शिवाजी सुतार ने कहा कि, सेंट्रल रेलवे ने छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस से ठाणे और वाशी तक उपनगरीय सेवाएं निलंबित कर दी हैं. स्पेशल मेल / एक्सप्रेस ट्रेनों को रिशेड्यूल किया गया है. Also Read - तेलंगाना में बाढ़ से तबाही, अब तक 50 की मौत, 5 हज़ार करोड़ का नुकसान

वहीं डब्ल्यूआर प्रमुख प्रवक्ता सुमित ठाकुर ने कहा, इसी तरह पटरियों के जलमग्न होने के कारण पश्चिम रेलवे को चर्चगेट से अंधेरी के बीच सभी उपनगरीय सेवाओं को निलंबित करना पड़ा. हालांकि स्थिति में सुधार होने के बाद चर्चगेट से बांद्रा के बीच सेवाएं चलाई गईं. आईएमडी, मौसम विज्ञान के डिप्टी डायरेक्टर जनरल केएस होसलिकर ने कहा, “मुंबई और ठाणे उपनगरों में पिछले 12 घंटों में भारी बारिश के साथ कुछ क्षेत्रों में 150 मिलीमीटर से अधिक बारिश रिकॉर्ड करने की जानकारी मिली है.”

मुंबई के सार्वजनिक बस सेवा ऑपरेटर बीईएसटी ने शहर के आसपास के करीब 18 मार्गों पर अपने परिचालन को रद्द कर दिया है और कुछ को डायवर्ट कर दिया है. बारिश के कारण मकान गिरने और दीवार ढहने जैसी करीब आठ बड़ी और छोटी घटनाएं दर्ज कई गईं, वहीं जयफलवाड़ी, तारदेओ में मामूली भूस्खलन, बिजली के शॉर्ट-सर्किट की लगभग 40 शिकायतों के अलावा पेड़ों या शाखाओं के गिरने की 12 घटनाएं हुईं. हालांकि कोई हताहत नहीं हुआ.

तीन सालों में पहली बार, 14,47,363 मिलियन-लीटर की कुल क्षमता के साथ झीलों में कुल 14,30,152 मिलियन-लीटर (98.81 प्रतिशत) का रिकॉर्ड जल-भंडारण देखा गया, जबकि साल 2019 में यह भंडारण 98.55 प्रतिशत और साल 2018 में 93.61 था. वहीं तटीय कोंकण के अन्य हिस्सों जैसे सिंधुदुर्ग, रत्नागिरि, रायगढ़, ठाणे और पालघर में भी भारी बारिश से सामान्य जीवन बाधित हुई और कई कस्बों और समुद्र के किनारे के गांवों में बाढ़ आ गई.