Mumbai Rain Latest Updates: मुंबई समेत महाराष्ट्र के कई हिस्सों में मंगलवार को हुई भारी बारिश एक फिर आफत बन गई है. भारी बारिश की वजह से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. मूसलाधार बारिश की वजह से मुंबई के कई इलाकों में भारी जलजमाव (Mumbai Rain) हो गया है. बारिश की वजह से लोकल ट्रेन सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं. कुछ रूट्स पर ट्रेनों को रद्द किया गया था कहीं पर रिशेड्यूल. इस बीच बीएमसी (BMC) ने राज्य के सभी सरकारी और प्राइवेट ऑफिस में छुट्टी की घोषणा की है और लोगों को सलाह दी गई है कि घर से तभी निकलें जब कोई जरूरी काम हो.Also Read - Weather Report Today India: देश के कई हिस्सो में 'कोल्ड डे' का अलर्ट जारी, जानिए कैसा रहेगा मौसम का मिजाज

Also Read - देश के पहाड़ी राज्यों में भारी बर्फबारी- रेलवे ने शेयर की कालका-शिमला रूट की तस्वीरें- Photos देख रोमांचित हो जाएंगे आप

BMC की तरफ से जारी रिलीज के अनुसार, ‘शहर के कई हिस्सों में जलजमाव और भारी बारिश के बाद आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर सभी प्राइवेट और सरकारी प्रतिष्ठानों के लिए अवकाश घोषित किया है. लोगों को सिर्फ जरूरी कामों के लिए घरों से निकलने की सलाह दी गई है. Also Read - Weather Alert: रहें सावधान! दिल्ली-पंजाब-हरियाणा-बिहार सहित 8 राज्यों में अभी और बढ़ेगी शीतलहर, 5 डिग्री तक गिरेगा पारा

भारी बारिश की वजह से वीरा देसाई रोड, अंधेरी, परेल, वासई, गोरगांव, ग्रांट रोड से चरणी रोड, ओअर परेल से प्रभादेवी, दादर से माटूंगा और माटूंगा ले माहिम तक सड़कों पर पानी भरा है.

वहीं, पश्चिमी रेलवे ने चर्चगेट से अंधेरी के लिए चलने वाली लोकल ट्रेन को बारिश की वजह से रद्द कर दिया गया है. इसके अलावा विरार से अंधेरी तक लंबी दूरी की स्पेशल ट्रेन को भी रिशेड्यूल किया गया है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, उपनगरीय मुंबई में मंगलवार को 23.4 मिमी की बारिश देखी गई, जोकि सामान्य से 129 फीसदी ज्यादा है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बुधवार दिन में मुंबई और ठाणे में भारी बारिश के पूर्वानुमान के साथ ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है. आईएमडी के उप महानिदेशक के. एस. होसालिकर के अनुसार सांताक्रूज में सुबह पांच बजे तक 273.6 मिमी और कोलाबा में 122.2 मिमी बारिश दर्ज की गई. नगर निकाय अधिकारी ने बताया कि सड़कों पर पानी भरे होने के कारण बृहन्मुंबई विद्युत आपूर्ति एवं यातायात (बेस्ट) की बस सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं और कई जगह यातायात का रुख भी बदला गया है.