मुंबई: भारी बारिश और अरब सागर में ऊंची लहरें उठने के चलते रेल पटरियों पर पानी भर जाने को लेकर मध्य रेलवे के ठाणे और पनवेल रेल खंडों पर शनिवार को ट्रेनों का आवागमन प्रभावित हो गया तथा विभिन्न स्टेशनों पर हजारों यात्री फंस गये. यात्रियों की सहायता के लिए शहर के नगर निकाय ने दक्षिण और मध्य मुंबई के स्कूलों में राहत शिविर खोले हैं, जहां उन्हें जलपान उपलब्ध कराया जा रहा है.

 

मध्य रेलवे के मुख्य प्रवक्ता सुनील उदासी ने कहा कि दोपहर में बारिश के साथ-साथ अरब सागर में ऊंची लहरें उठने के कारण रेल पटरियों पानी बढ़ गया और जिसके कारण कुर्ला, सायन और चूनाभट्टी खंड की ओर पानी बहने लगा. उन्होंने कहा कि मुख्य लाइन पर कुर्ला-सायन स्टेशनों और हार्बर लाइन पर कुर्ला तथा चूनाभट्टी के बीच उपनगरीय (ट्रेन) सेवाएं बाधित हुई. अब तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है. मध्य रेलवे ने हार्बर लाइन पर नवी मुंबई के सीएसएमटी-वाशी मार्ग और मुख्य लाइन पर सीएसएमटी-ठाणे खंड के बीच ट्रेनों के परिचालन को अस्थायी रूप से रोक दिया है.


सोशल मीडिया पर कई वीडियो में यात्री रेल पटरियों पर चलते हुए दिख रहे हैं. उन्होंने बताया कि सीएसएमटी और दादर स्टेशनों के बीच विशेष तीव्र सेवाएं संचालित की जा रही है. इस बीच बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने दक्षिण मुंबई में सीएसएमटी में फंसे यात्रियों के लिए विशेष प्रबंध किये हैं.