Mumbai School Reopening Updates: देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर कम होने के बाद धीरे-धीरे चरणबद्ध तरीके से जरूरी गतिविधियों की इजाजत दी जा रही है. दूसरी लहर में सबसे ज्यादा प्रभावित रहे महाराष्ट्र में भी अनलॉक की प्रक्रिया लगातार जारी है. इन सबके बीच मुंबई में स्कूलों को खोले जाने का ऐलान कर दिया गया है. BMC ने अक्टूबर के पहले हफ्ते में मुंबई में 8वीं से 12वीं तक के स्कूलों को खोलने का ऐलान किया गया. मुंबई में 4 अक्टूबर से 8वीं से 12वीं तक के स्कूल फिर से खोले जा रहे हैं. बाकी कक्षाओं के लिए स्कूलों को खोलने का फैसला नवंबर के बाद लिया जाएगा. बीएमसी कमिश्नर ने यह जानकारी दी.Also Read - School Kab Khulenge: इस राज्य में 8वीं से 12वीं तक के स्कूल खुलने की आ गई तारीख, जानें क्या बोले शिक्षा मंत्री...

इन सबके बीच मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने शुक्रवार को स्कूलों को लेकर गाइडलाइंस जारी की. किशोरी पेडनेकर ने कहा, ‘स्कूली छात्रों को अपने माता-पिता से सहमति पत्र लाना होगा. वहीं, केवल 20-25 छात्रों को ही एक कक्षा में बैठने की अनुमति होगी. इसके साथ-साथ फेस मास्क और हैंड सैनिटाइज़र का उपयोग महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा बिना माता-पिता के सहमति पत्र के छात्र स्कूल नहीं आ सकेंगे. Also Read - School Kab Khulenge: इस राज्य में जल्द खुलेंगे प्राथमिक स्कूल, जानें क्या बोले मुख्यमंत्री...

Also Read - Primary Schools Reopening News: इस राज्य में दशहरे के बाद खुल जाएंगे सभी प्राइमरी स्कूल, जानें क्या बोले शिक्षा मंत्री...

इससे पहले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र में चार अक्टूबर से स्कूलों को खोलने का फैसला लिया था. राज्य सरकार की तरफ से जारी आदेश के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्र में 5-12वीं कक्षा, कस्बा और शहरी क्षेत्रों में 8-12वीं कक्षा के लिए स्कूल खोलने की अनुमति दी थी. उधर, महाराष्ट्र की स्कूली शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कहा था कि कोविड-19 के सभी नियमों का कड़ाई से पालन करते हुए स्कूलों को फिर से खोलने की अनुमति दी गयी है.

उन्होंने कहा था कि उद्धव ठाकरे और कोविड-19 टास्क फोर्स से चर्चा करने के बाद यह फैसला लिया गया है. उन्होंने कहा था कि स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति अनिवार्य नहीं होगी. बच्चों को स्कूल जाने की अनुमति देने के लिए माता-पिता की सहमति अनिवार्य होगी. इसके साथ ही संख्या के आधार पर स्कूल सीमित कक्षाओं या वैकल्पिक दिन की कक्षाओं का विकल्प चुन सकते हैं.

(इनपुट: ANI)