मुंबई: भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी दल शिवसेना ने मंगलवार को कहा कि महिलाओं से दुर्व्यवहार करने वाले लोग कैबिनेट में बैठे हैं. शिवसेना ने किसी का नाम लिए बिना यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रहे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने पर केंद्र पर कटाक्ष किया.

#MeToo: एक और महिला पत्रकार ने अकबर पर लगाए आरोप, ‘होटल में बुलाया, अंडरवियर पहने हुए खोला दरवाजा’

कई महिला पत्रकारों ने पूर्व संपादक और अब केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री अकबर पर आरोप लगाया है कि उन्होंने पत्रकार रहते हुए उनका यौन उत्पीड़न किया. अकबर ने इन आरोपों को ‘झूठा, फर्जी और बेहद दुखद’ बताते हुए खारिज किया है और आरोप लगाने वाली एक पत्रकार के खिलाफ सोमवार को दिल्ली की एक अदालत में निजी आपराधिक मानहानि शिकायत दायर की है.

#MeToo: यौन शोषण के आरोपों पर अदालत पहुंचे एमजे अकबर, प्रिया रमानी के खिलाफ शिकायत

शिवसेना ने पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में कहा, ‘(2014 लोकसभा चुनावों से पहले) भाजपा ने सभी को रोटी, कपड़ा और मकान तथा ‘नैतिक देश’ बनाने का वादा किया था, लेकिन महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार करने वाले लोग कैबिनेट में हैं और शराब को प्रोत्साहित करने के लिए फैसले किए जा रहे हैं. संपादकीय में, पार्टी ने शराब की ऑनलाइन बिक्री और ‘होम डिलीवरी’ के महाराष्ट्र सरकार के प्रस्ताव की भी आलोचना की.