मुंबई: पिछले सप्ताह मुंबई के आजाद मैदान में एलजीबीटीक्यू कार्यक्रम में जेएनयू छात्र शरजील इमाम के समर्थन में ‘राष्ट्र विरोधी’ नारे लगाने के आरोप को लेकर मुंबई पुलिस ने सोमवार को सामाजिक कार्यकर्ता उर्वशी चूड़ावाला पर देशद्रोह का मामला दर्ज किया. वहीं, पुलिस को अपना बयान दर्ज कराने पहुंची उर्वशी की मां ने कहा कि उसने गलती की है, लेकिन उसे किसी ने उकसाया है. Also Read - Explained: कोरोना की दूसरी लहर के दौरान लगाए प्रतिबंध किस तरह से अर्थव्यवस्था को पहुंचा रहे हैं नुकसान?

पुलिस उपायुक्त प्रणय अशोक ने बताया कि चूड़ावाला के अलावा 50 अन्य पर भी आईपीसी की धारा- 124 ए (देशद्रोह), 153 बी (राष्ट्रीय अखंडता के प्रति पूर्वाग्रहपूर्ण बयान), 505 (लोगों को उकसाने के लिए दिया गया बयान), 34 (साझा इरादा) के तहत मामला दर्ज किया गया है. Also Read - बर्थडे पर 36 परिजनों को हॉस्पिटल ले गई 6 साल की बच्ची, सभी से कराया ब्लड डोनेट, बोली- यही मेरा बर्थडे गिफ्ट

बता दें कि मंगलवार को उर्वशी चूडावाला की मां अपनी बेटे के कथित रूप से मुंबई के आज़ाद मैदान में शारजील इमाम के समर्थन में नारे लगाने के मामले में कहा कि उसने गलती की है, लेकिन किसी ने उसे उकसाया है. उर्वशी की मां ने बताया पुलिस ने मेरा बयान दर्ज किया है. Also Read - क्या मुंबई में लंबे वक्त तक लगने वाला है लॉकडाउन? आशंका के चलते मुंबई से फिर घर लौट रहे प्रवासी कामगार

पुलिस उपायुक्त ने कहा, ”हमने चूड़ावाला और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. हम आगे की जांच के सिलसिले में उन्हें (आजाद मैदान) थाने बुलाएंगे.”

आजाद मैदान थाने ने यह मामला दर्ज किया है. इससे पहले सोशल मीडिया पर एक एक वीडियो सामने आया था, जिसमें चूड़ावाला एक फरवरी को एलजीबीटीक्यू कार्यक्रम में नारे लगाते दिखे थे. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि भाजपा के पूर्व सांसद किरीट सोमैया ने दो फरवरी को इस संबंध में एक शिकायत दर्ज कराई थी.

बता दें कि जामिया मिल्लिया इस्लामिया और अलीगढ़ में भड़काऊ भाषण देने को लेकर इमाम को बिहार के जहानाबाद से 28 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था.