नई दिल्ली: कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के ऑफिस में अवैध निर्माण बताते हुए बीएमसी (BMC) द्वारा तोड़फोड़ करने के मामले ने तूल पकड़ लिया है. इसे लेकर एनसीपी चीफ शरद पवार ने बड़ा बयान दिया है. शरद पवार (Sharad Pawar) ने कहा कि अगर बीएमसी ने सब कुछ नियम के मुताबिक किया है तो ये ठीक है. Also Read - करीना कपूर ने सैफ अली खान और तैमूर संग छोड़ा मुंबई, आखिर माजरा क्या है?

शरद पवार ने कहा कि मुझे कंगना रनौत के ऑफिस में हुई कार्रवाई के मामले की जानकारी मीडिया से हुई. इससे पहले मुझे कोई जानकारी नहीं थी. अखबारों से ही अवैध निर्माण के बारे में पता चला. मुंबई में अवैध निर्माण कोई नया नहीं है. इस बीच अगर बीएमसी ने नियमों के मुताबिक़ एक्शन लिया है तो फिर ये ठीक है. वहीं, शरद पवार का ये भी कहना है कि कंगना को बेवजह इतना प्रचार दिया गया, ऐसा नहीं होना चाहिए था. Also Read - फिल्म निर्माता मधु मंटेना का बयान दर्ज कर रही एनसीबी

बता दें कि इस मुद्दे को लेकर एनसीपी चीफ शरद पवार और महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के बीच मीटिंग हो रही है. मंत्री और शिवसेना नेता अनिल परब भी बैठक में मौजूद हैं. Also Read - नोटिस मिलने पर NCP चीफ शरद पवार बोले- आईटी विभाग कुछ लोगों से प्यार करता है

कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच ठनी हुई है. दोनों ओर से बयानबाजी हुई. इस बीच कंगना ने मुंबई पुलिस को माफिया बोल दिया और महाराष्ट्र की तुलना पकिस्तान से कर दी. इसके बाद ये मामला बढ़ गया. केंद्र सरकार ने कंगना को वाई श्रेणी की सुरक्षा दे दी. सुरक्षा के साथ कंगना आज मुंबई पहुंची. इस पर भी जमकर हंगामा हुआ.