मुंबई: राकांपा प्रमुख शरद पवार ने बृहस्पतिवार को कहा कि बैंक घोटाला मामले में वह शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश होंगे. उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि वे यहां केंद्रीय एजेंसी के कार्यालय के पास एकत्र न हों और सुनिश्चित करें कि लोगों को कोई असुविधा न हो.

 

राकांपा प्रमुख शरद पवार ने बुधवार को कहा था कि वह महाराष्ट्र राज्य सहकारी (एमएससी) बैंक घोटाले के संबंध में अपने खिलाफ दर्ज धनशोधन के मामले में जांच एजेंसी के सामने पेश होंगे. हालांकि, ईडी ने मामले में पवार या किसी अन्य को अब तक तलब नहीं किया है. पवार को ईडी कार्यालय में शुक्रवार को प्रवेश करने की अनुमति नहीं देने की संभावना के बीच राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि पार्टी प्रमुख दक्षिण मुंबई में एजेंसी कार्यालय में जाने के अपने फैसले पर दृढ़ हैं.


शरद पवार ने किया ट्वीट
पवार ने ट्वीट किया कि जैसा कि कल की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मैंने कहा था कि मैं शुक्रवार 27 सितंबर को दोपहर दो बजे बलार्ड एस्टेट में मुंबई ईडी कार्यालय जाऊंगा. उन्होंने कहा कि मैं राकांपा के सभी कार्यकर्ताओं और समर्थकों से ईडी कार्यालय परिसर के पास जमा नहीं होने की अपील करता हूं. संविधान का सम्मान करने और संस्थाओं का आदर करने की हमारी परंपरा को ध्यान में रखते हुए मैं आपसे, पुलिस और अन्य सरकारी एजेंसियों का सहयोग करने का अनुरोध करता हूं.

बैंक घोटाले मामले पर बोले शरद पवार, ‘मुझे जेल जाने में कोई समस्या नहीं, पहले कभी नहीं रहा अनुभव’

जब जरूरत होगी पूछताछ के लिए बुलाएंगे: ईडी
हालांकि, ईडी अधिकारियों ने कहा कि मामले में किसी भी व्यक्ति या आरोपी से पूछताछ करना ‘जांच अधिकारी’ का विशेषाधिकार है और जहां इसकी वजह होती है वहां ऐसा फैसला किया जाता है. उन्होंने कहा कि पवार को अब तक समन नहीं भेजा गया है. साथ ही कहा कि ‘जब जरूरत होगी’ उन्हें पूछताछ और बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया जाएगा. इस बारे में पूछे जाने पर मलिक ने कहा कि पवार साहब पहले ही कार्यालय जाने के फैसले पर आगे बढ़ेंगे. हम डरने वाले नहीं हैं. उनके (ईडी) बुलाने से पहले ही हम जाएंगे. (इनपुट एजेंसी)

पीएम मोदी ने साधा निशाना, कहा- ‘शरद पवार को पाकिस्तान अच्छा लगता है, वहां का ज्यादा समर्थन करते हैं’