नई दिल्‍ली: राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सीनियर नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल शुक्रवार को मुंबई में प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के सामने अपने बयान दर्ज कराने के लिए पहुंचे हैं. बता दें कि ईडी ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के सहयोगी इकबाल मिर्ची की अवैध संपत्तियों से जुड़े धन शोधन के केस की जांच के सिलसिले में राकांपा के वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल को तलब किया था. प्रवर्तन निदेशालय की ओर से पूर्व केंद्रीय मंत्री पटेल को 18 अक्टूबर को मुंबई में बयान दर्ज कराने को कहा गया था.

1993 में मुंबई में हुए सीरियल बम ब्‍लास्‍ट का आरोपी था मिर्ची
बता दें कि इकबाल मिर्ची ड्रग माफिया था और वह 1993 मुंबई बम विस्फोट मामले के मुख्‍य आरोपियों में से एक था. इकबाल मिर्ची की 2013 में लंदन में मौत हो गई थी.

विमान घोटाले में ईडी कर पहले चुका है पटेल से पूछताछ
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) पटेल ओर उनकी पत्नी द्वारा संचालित एक रियल एस्टेट कंपनी और मिर्ची की पत्नी के बीच एक सौदे के
सिलसिले में धन शोधन रोकथाम कानून के तहत पटेल के बयान दर्ज किए जा रहे हैं. इससे पहले ईडी विमानन घोटाले से जुड़े धनशोधन के एक अन्य मामले में पहले पूर्व नागरिक उड्डयन मंत्री पटेल से पूछताछ कर चुकी है.

यह है इकबाल मिर्ची की जमीन से जुड़ी लैंड डील
ईडी के अधिकारियों के मुताबिक, पटेल की मिलेनियम डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड ने 2006-07 में सीजे हाउस नामक इमारत बनाई थी. इसकी तीसरी और चौथी मंजिलों को मिर्ची की पत्नी हाजरा इकबाल के नाम हस्तांतरित कर दिया गया था. बताया जाता है कि जिस जमीन पर इमारत बनाई गई वह मिर्ची की थी. जांचकर्ताओं का दावा था कि यह जमीन धन शोधन, मादक पदार्थ तस्करी और जबरन वसूली के अपराधों से उगाहे पैसों से खरीदी गई थी. ईडी ने हाल ही में मिर्ची के दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया था. इकबाल मिर्ची की 2013 में लंदन में मौत हो गई थी.

ईडी ने लैंड डील में पटेल का लिंक जोड़ा
ईडी का दावा है कि प्रफुल्ल पटेल की कंपनी मिलिनियम डेवलपर्स ने 2007 में मुंबाइस सीजे हाउस के दो तलों को हाजरा को
हस्तांतरित किया था. यह हस्तांतरण उस जमीन में के बदले में किया गया जिस पर इस इमारत का निर्माण किया गया है. कथित
तौर पर इस जमीन में मिर्ची के हित जुड़े हुए थे.

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने ईडी के दावे को नकारा
ईडी के दावे से इनकार करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री पटेल ने कहा था, मिलिनियम का मालिक मेरा परिवार है, इसमें कोई और भागीदार नहीं है.’’ एनसीपी नेता ने कहा, ‘‘पटेल परिवार और हाजरा मेमन के बीच एक पैसे की भी संपत्ति का सौदा नहीं हुआ है. पटेल ने कहा, ‘‘सब कुछ बंबई उच्च न्यायालय के कोर्ट रिसीवर के कब्जे में है. हम इस मामले में कहीं भी सीधे तौर पर संपत्ति की देखभाल नहीं कर रहे हैं और न ही हम इसके प्रभारी हैं.’’

ईडी के पास पटेल और मिर्ची के रिश्‍तों के दस्तावेज हैं: पीयूष गोयल
केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने एक दिन पहले गुरुवार को कहा कि एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल के हस्ताक्षर एक ऐसे दस्तावेज पर मिले हैं, जिस पर गैंगस्टर इकबाल मिर्ची की पत्नी के हस्ताक्षर भी हैं, जिसके बाद ईडी ने उनके खिलाफ जांच शुरू की. गोयल ने मीडियाकर्मियों से कहा, ”ईडी के पास पटेल और हाजरा इकबाल मेनन (मिर्ची की पत्नी) के हस्ताक्षर वाले कुछ दस्तावेज हैं. भ्रष्टाचार के बड़े मामलों से राकांपा का पिछला अतीत जुड़ा रहा है, इसलिए राज्य को इसके बारे में चिंतित होना चाहिए.