औरंगाबाद: महाराष्‍ट्र के बीड जिले से राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के विधायक प्रकाश सोलंके ने सोमवार की रात घोषणा की कि वह विधानसभा की सदस्‍यता से इस्‍तीफा देंगे, क्‍योंकि वह राजनीति के लिए अयोग्‍य हैं. सोलंके हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में माजलगांव सीट से चौथी बार विधायक चुने गए हैं. उन्‍होंने राज्‍य में सोमवार को हुए कैबिनेट विस्‍तार से अपने अचानक इस्‍तीफे के निर्णय का कोई संबंध होने से इनकार किया है.

विधायक सोलंके ने कहा कि मैं मंगलवार को इस्‍तीफा देने जा रहा हूं और अब राजनीति से दूर रहूंगा. उन्‍होंने कहा कि वह अपनी पार्टी के किसी भी नेता से नाराज नहीं हैं.

सोलंके ने साफ किया और कहा, मैंने अपने इस्‍तीफे के निर्णय के बारे में एनसीपी के नेताओं को जानकारी दे दी है. मैं विधानसभा अध्‍यक्ष से मंगलवार को दोपहर बाद मिलूंगा और अपना इस्‍तीफा सौंप दूंगा. मेरे इस्‍तीफे का कैबिनेट विस्‍तार से कोई संबंध नहीं है.

सोमवार को मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपने मंत्र‍िमंडल का विस्‍तार किया था, जिसमें 36 मंत्री शामिल किए गए हैं, जिसमें एनसीपी के नेता अजित पवार ने डिप्‍टी चीफ मिनिस्‍टर पद की शपथ ली है. बता दें कि 288 सदस्‍यीय महाराष्‍ट्र विधानसभा में एनसीपी के 54 विधायक हैं, जबकि शिवसेना के 56 विधायक हैं.