मुंबई: कोरोना वायरस के नये प्रकार का पता चलने के बाद इसके प्रसार को रोकने के उद्देश्य से मुंबई में पुलिस गश्त एवं सतर्कता बढ़ा दी गयी है जबकि बारों एवं पबों के खुले रहने के समय पर भी अंकुश लगाया गया है. पुलिस के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि पुलिस सड़कों पर मार्च कर रही है एवं लोगों से घरों में रहने का आग्रह कर रही है क्योंकि रात का कर्फ्यू मंगलवार की रात से प्रभावी हो गया है . उन्होंने बताया कि यह कर्फ्यू रात 11 बजे से सुबह छह बजे तक जारी रहेगा . Also Read - Corona Vaccine: नॉर्वे में Pfizer वैक्सीन लगवाने के बाद 23 लोगों की मौत, हड़कंप मचा

सरकार के इस आदेश से आपात, चिकित्सा एवं आवश्यक सेवाओं को छूट दी गई है . पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि रात के कर्फ्यू के दौरान गैर आवश्यक कार्यों के लिये इस्तेमाल किये जाने वाले वाहनों को जब्त कर लिया जायेगा . बुधवार की सुबह छत्रपति शिवाजी टर्मिनस एवं हाजी अली इलाकों में पुलिस की बढ़ी हुई गश्त देखी गई. Also Read - भारत में कोरोना संक्रमण के 15,144 नए मामले सामने आए, मृतकों की संख्या एक लाख 52 हज़ार से पार

पुलिस के जवानों को यहां दिनदोशी इलाके में मार्च करते हुये देखा गया. उन्हें गोरेगांव एवं मलाड उपनगर इलाके में जांच करते हुये देखा गया. पुलिस ने लोगों से घर जाने एवं सरकार के आदेश का पालन करने के लिये भी कहा . एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने होटलों, बारों, पबों एवं अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के मालिकों से रात 11 बजे के बाद परिसरों को बंद करने के लिये कहा है. Also Read - भारत सद्भावना के तौर पर दुनिया के कई देशों को देगा लाखों कोरोना वैक्सीन, चल रही है तैयारी

कांदिवली उपनगर में पुलिस को गश्त करते देखा गया और इस दौरान उसने लोगों को रात के कर्फ्यू के बारे में बताया . पांच या अधिक लोगों के एक साथ जमा होने की स्थिति में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत कार्रवाई की भी पुलिस ने चेतावनी दी .

अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने रात के दौरान शहर में विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी कर वाहनों की जांच तेज कर दी है और यह सुनिश्चित कर रही है कि पांच या अधिक लोगों का अनावश्यक आवागमन नहीं हो .

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता एवं पुलिस उपायुक्त एस चैतन्य ने बताया, ‘‘गैर आवश्यक कारणों एवं गैर छूट उद्देश्यों के लिये इस्तेमाल किये जाने वाले वाहनों को जब्त कर लिया जायेगा.’’ उन्होंने बताया कि संभागीय पुलिस उपायुक्तों समेत सभी स्थानीय पुलिस अधिकारियों को रात के कर्फ्यू के दौरान निषेधाज्ञा को सख्ती से लागू कराने के लिये सड़कों पर उतारा गया है.

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिये पड़ोसी ठाणे एवं नवी मुंबई में भी पुलिस रात के कर्फ्यू का सख्ती से पालन करवा रही है. ब्रिटेन में कोरोना वायरस के एक नये प्रकार के सामने आने की चिंताओं के बीच महाराष्ट्र सरकार ने 22 दिसंबर से पांच जनवरी के बीच नगर निगम वाले इलाकों में एहतियातन रात के कर्फ्यू का ऐलान किया है.