राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने आज गुरुवार को मुंबई पुलिस के पूर्व अधिकारी व शिवसेना नेता प्रदीप शर्मा को एक छापे के दौरान उनके आवास से अरेस्‍ट कर लिया है. एनआई ने यह गिरफ्तारी उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के पास एक वाहन में विस्फोटक रखा हुए पाए जाने और कारोबारी मनसुख हिरेन की हत्या के मामले की जांच के दौरान की है.Also Read - बाढ़ राहत के लिए दान देते समय फर्जी संगठनों से रहें सावधान, महाराष्ट्र पुलिस ने जारी की चेतावनी

एनआईए की टीम ने आज मुंबई में आज सुबह करीब 6 बजे अंधेरी पश्चिम में जेबी नगर में स्थित शर्मा के आवास पर छापा मारा और तलाशी ली. इस दौरान एनआईए की टीम ने मामले के संबंध में शर्मा से पूछताछ भी की है. Also Read - Maharashtra Flood: बाढ़ प्रभावित कोल्हापुर जिले में 'एक साथ' पहुंचे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस

Also Read - Maharashtra: पूर्व बैंक मैनेजर ने ऑफिस में महिला अफसर का मर्डर किया, सामने आई ये वजह

बता दें कि इससे पहले एनआईए ने दक्षिण मुंबई में अपने कार्यालय में दो दिनों तक शर्मा से पूछताछ की थी. एनआईने ने इस मामले में पहले संलिप्तता को लेकर पूर्व पुलिस अधिकारी सचिन वाजे, रियाजुद्दीन काजी, सुनील माने, पूर्व पुलिस कांस्टेबल विनायक शिंदे और क्रिकेट सटोरिये नरेश गौड़ को गिरफ्तार किया था.

जांच एजेंसी ने हाल ही में इस सिलसिले में संतोष शेलार और आनंद जाधव को गिरफ्तार किया था. एनआईए ने कहा कि दोनों व्यक्ति कारोबारी मुकेश अंबानी के आवास के समीप उस एसयूवी को खड़ी करने की साजिश में शामिल थे, जिसमें विस्फोटक सामग्री रखी हुई थी.

साउथ मुंबई में मुंकेश अंबानी के स्थित निवास ‘एंटीलिया’ के पास इस साल 25 फरवरी को एसयूवी खड़ी पाई गई थी, जिसमें विस्फोटक रखा मिला. इस स्‍कॉर्पियो कार के मालिक ठाणे के कारोबारी मनसुख हिरन पांच मार्च को मुंबई क्रीक में मृत पाए गए थे. पहले इन दोनों मामलों की जांच महाराष्ट्र पुलिस कर रही थी लेकिन बाद में इन्हें एनआईए को सौंप दिया गया.