Night Curfew News: महाराष्ट्र के अमरावती जिले में फरवरी की शुरुआत से ही कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बीच जिला प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू लागू किया है. हालांकि, लॉकडाउन (Lockdown) की संभावना से इंकार किया है. जिलाधिकारी शैलेष नवल ने कहा कि संक्रमण के नए मामलों में बढ़ोतरी की एक वजह अधिक से अधिक लोगों का जांच के लिए सामने आना भी है. Also Read - Night curfew Punjab: पंजाब के इन चार जिलों में लगा नाइट कर्फ्यू, जानिए कब तक लागू रहेगा पाबंदी

अमरावती जिले में सोमवार को संक्रमण के 449 नए मामले सामने आए, जिसके साथ ही जिले में अब तक 25,743 मामले सामने आ चुके हैं. जिलाधिकारी ने कहा, ‘कर्फ्यू का मकसद बाजारों एवं सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ एकत्र होने से रोकना है. इसका मतलब कारोबार या दुकान बंद रखने से नहीं है जोकि पहले की तरह ही कार्य करते रहेंगे.’ उन्होंने कहा कि जिले में स्कूल संचालन का निर्णय संबंधित स्कूल को ही लेना होगा. Also Read - Corona Cases in Thane: महाराष्ट्र में कोरोना का बढ़ता प्रकोप, 689 नए मामले छह की मौत

नवल ने कहा, ‘कई स्कूलों में शिक्षक एवं छात्र कोरोना वायरस संक्रमित पाए गए हैं. हमने संचालन संबंधी निर्णय स्कूल प्रबंधन पर ही छोड़ा है.’ Also Read - MP के इन दो बड़े शहरों में अगले तीन में कम नहीं हुए कोरोना के केस तो फिर 8 मार्च से...

उधर, महाराष्ट्र के कुछ जिलों में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे मामलों को लेकर सख्त कदम उठाए जा सकते हैं. कोविड-19 मामलों में वृद्धि को ‘खतरनाक’ बताते हुए महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजीत पवार ( Ajit Pawar News) ने लोगों को आगाह किया कि सरकार कुछ ‘कठोर फैसले’ ले सकती है और इसके लिए लोगों को तैयार रहना चाहिए. पूर्वी महाराष्ट्र में विदर्भ क्षेत्र के कुछ जिलों, खासकर अमरावती और नागपुर, तथा उत्तर महाराष्ट्र के नासिक में पिछले कुछ दिनों में संक्रमण के नए मामलों की संख्या बढ़ी है.

(इनपुट: भाषा)