NCP अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) ने अपनी पार्टी के नेता और महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री धनंजय मुंडे (Dhananjay Munde) के खिलाफ आरोप साबित होने तक किसी तरह की कार्रवाई से इनकार किया है. मुंबई की एक महिला ने मुंडे के खिलाफ दुष्कर्म का आरोप लगाया था. पवार ने कहा कि जांच के बाद आरोप साबित होने पर ही मुंडे के खिलाफ कोई कार्रवाई की जाएगी. महाराष्ट्र में मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा मुंडे का इस्तीफा मांग रही है. Also Read - BJP की केंद्रीय चुनाव समिति की आज होने वाली मीटिंग रद्द, उम्‍मीदवारों की ल‍िस्‍ट का इंतजार

Also Read - असम की 92 सीटों पर भाजपा उतारेगी अपने उम्मीदवार? आज फिर होगी केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक

NCP प्रमुख ने कहा कि किसी व्यक्ति के खिलाफ आरोप लगाना और इस्तीफे की मांग करना चलन बन गया है. क्या राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) मुंडे के खिलाफ किसी तरह की कार्रवाई करने का विचार कर रही है, यह पूछे जाने पर पवार ने कहा, ‘आरोपों की जांच होनी चाहिए और सच सामने आना चाहिए. अगर आरोप सच हैं तो कार्रवाई की जिम्मेदारी हमारी है.’ पवार ने कहा, ‘लेकिन आरोप साबित होने तक कार्रवाई करना उचित नहीं होगा.’ Also Read - Kerala Election: क्या मेट्रोमैन Sreedharan नहीं होंगे केरल में CM पद के उम्मीदवार? जानें केंद्रीय मंत्री ने क्या कहा....

महाराष्ट्र में शिवसेना के नेतृत्व वाली महाविकास आघाड़ी सरकार में राकांपा भी घटक है. सामाजिक न्याय मंत्री मुंडे (45) ने दुष्कर्म के आरोपों को खारिज करते हुए इसे ‘ब्लैकमेल’ करने का प्रयास बताया था.

(इनपुट: भाषा)