मुंबई: शिवसेना के नेता संजय राउत ने गुरुवार को कहा कि महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के बीच अब तक कोई बातचीत नहीं हुई है. बता दें कि मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल 9 नवंबर को समाप्त होगा. Also Read - Political Crisis in Rajasthan Update: भाजपा में शामिल होेने के सवाल पर पहली बार बोले सचिन पायलट, कही ये बात

Also Read - राजस्थान में सियासी संग्राम के बीच एक्टिव हुई बीजेपी, आज जयपुर में मीटिंग करेंगी वसुंधरा राजे

यह पूछे जाने पर कि राज्य में सरकार गठन को लेकर बने गतिरोध के बीच क्या उनके विचार पार्टी के विचारों का प्रतिनिधित्व करते हैं, उन्होंने कहा, मैंने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के विचारों को सामने रखा. राउत ने ठाकरे की शिवसेना विधायकों के साथ बैठक से पूर्व संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी और विपक्षी कांग्रेस और एनसीपी के विधायक पाला नहीं बदलेंगे. Also Read - डिप्टी सीएम पद से हटाए गए सचिन पायलट, अशोक गहलोत बोले- उनके हाथ में कुछ भी नहीं है, मजबूरी में करना पड़ा फैसला

बीजेपी सरकार बनाने की कोशिश में, शिवसेना ने दोहराया- सीएम हमारी पार्टी का होगा

पोर्टफोलियो के समान आवंटन और मुख्यमंत्री पद साझा करने की शिवसेना की मांग को लेकर बीजेपी और शिवसेना के बीच गतिरोध बना हुआ है. भाजपा ने ढाई-ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद साझा करने की शिवसेना की मांग खारिज कर दी है.

सूत्रों ने बुधवार को कहा था कि दोनों दलों के बीच पीछे के दरवाजे से बातचीत चल रही है और सफलता मिलने की उम्मीद है.