सागर: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों के मद्देनजर आम सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार को जमकर आड़े हाथों लिया. कांग्रेस अध्यक्ष ने शुक्रवार को नोटबंदी को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला बोला और नोटबंदी को देश के इतिहास को सबसे बड़ा घोटाला बताया. मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में उम्मीदवारों के समर्थन में प्रचार करने पहुंचे राहुल गांधी ने शुक्रवार को सागर जिले के देवरी विधानसभा में जनसभा में कहा कि नोटबंदी के चलते गरीब, मजदूर, किसान, छोटे कारोबारी को लाइन में लगा दिया गया और कालेधन वाले हजारों करोड़ रुपये लेकर भाग गए. Also Read - West Bengal Assembly Election: कांग्रेस का ममता बनर्जी को बड़ा ऑफर, कहा- पश्चिम बंगाल में मिलकर चुनाव लड़े TMC, बीजेपी से...

Also Read - कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, राहुल-प्रियंका भी हुए शामिल, कहा- पूंजीपतियों को फायदा पहुंचा रही बीजेपी

Also Read - राहुल गांधी की अपील- पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते जा रहे दाम, किसान भी परेशान, सरकार के खिलाफ 'सत्याग्रह' में शामिल हों लोग

राफेल की खरीद में गडबड़ी

चुनावी सभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी आत्मविश्वास से भरे नजर आए उन्होंने जनता से सवाल पूछा कि किसी सूट वाले को लाइन में लगे देखा तो, जनता से जवाब मिला,… ‘नहीं’. उन्होंने कहा कि गरीब जनता की जेब से पैसे निकालकर अमीरों की जेब में डाल दिए गए, मेहुल चौकसी देश की रकम लेकर भागा. विजय माल्या 10 हजार करोड़ रुपये लेकर भागने से पहले वित्त मंत्री से संसद में मिला था.

पीएम मोदी ने दी चुनौती: 5 साल के लिए परिवार से बाहर के किसी व्यक्ति को कांग्रेस बनाए अध्यक्ष

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा नेाटबंदी को कालेधन के खिलाफ लड़ाई बताए जाने पर राहुल ने सवाल उठाते हुए कहा कि नोटबंदी की लाइन में न तो मेहुल दिखता है और न ही नीरव मोदी, वे तो जनता का हजारों करोड़ रुपये पैसा लेकर भाग जाते है, फिर कैसे है यह कालेधन की लड़ाई. उन्होंने आरोप लगाया कि नोटबंदी के नाम पर इस देश के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला हुआ है, यह बात आने वाले समय में सामने आ जाएगी. राहुल गांधी ने राफेल लड़ाकू विमान की खरीद में गडबड़ी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि भारत एरोनॉटिक लिमिटेड ने कई तरह के लड़ाकू विमान बनाए हैं, मगर राफेल का काम उसे नहीं दिया गया. पीएम मोदी ने अपने दोस्त को लाभ पहुंचाने के लिए यह ठेका दिया. (इनपुट एजेंसी)