मुंबई: अक्सर ही इस मुद्दे पर बात होती है कि खेती करने की लागत बढ़ रही है, अधिकतर चीज़ें बहुत महँगी हैं, जबकि फसल तैयार होती है तो किसानों को इसके सही दाम तक नहीं मिल पाते. ऐसा ही कुछ हुआ महाराष्ट्र के सोलापुर में रहने वाले एक किसान के साथ. किसान ने 1123 किलो प्याज बेचीं और उसे इतनी प्याज बेचने के बाद फायदा हुआ सिर्फ 13 रुपए. किसान ने इस पर कहा कि मैं अब इन रुपयों का क्या करूँगा.Also Read - खुशखबरी: PM कृषि सिंचाई योजना 5 साल के लिए बढ़ाई गई, 22 लाख किसानों को होगा फायदा

सर्दियों के मौसम के दौरान प्याज की कीमतों में वृद्धि के बावजूद महाराष्ट्र के सोलापुर से एक किसान को 1,123 किलो प्याज बेचकर महज 13 रुपये की कमाई हुई. सोलापुर स्थित कमीशन एजेंट द्वारा दी की गई बिक्री रसीद में महाराष्ट्र के एक किसान बप्पू कावड़े ने बाजार में 1,123 किलो प्याज भेजा और इसके बदले उसे केवल 1,665.50 रुपये मिले. इसमें खेत से कमीशन एजेंट की दुकान तक माल ले जाने की श्रम लागत, वजन करने का शुल्क और परिवहन खर्च शामिल है जबकि उत्पादन लागत 1,651.98 रुपये है. इसका मतलब है कि किसान ने केवल 13 रुपये कमाए. Also Read - Kisan Andolan खत्म होने के बाद अब जल्द ही खुलेंगे सभी रास्ते, सिंघु बॉर्डर से बैरिकेडिंग को हटाया जा रहा है

कावड़े की बिक्री रसीद ट्वीट करने वाले स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के नेता और पूर्व लोकसभा सांसद राजू शेट्टी ने कहा, “कोई इन 13 रुपये का क्या करेगा. यह अस्वीकार्य है. किसान ने अपने खेत से कमीशन एजेंट की दुकान पर प्याज की 24 बोरी भेजी और बदले में उसने इससे सिर्फ 13 रुपये कमाए.” Also Read - वापस होंगे किसानों के खिलाफ दर्ज मामले? कृषि मंत्री बोले- राज्य सरकारें करेंगी फैसला