मुंबई: विश्‍वव्‍यापरी कोरोना वायरस के चलते देशभर में लागू लॉकडॉउन के दौरान महाराष्‍ट्र के पालघर में पालघर में दो साधुओं समेत तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में महाराष्ट्र पुलिस के अपराध जांच विभाग (सीआईडी) 18 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इस हालिया गिरफ्तारी से अब तक इस मामले में गिरफ्तार होने वाले लोगों की संख्या 134 तक पहुंच चुकी Also Read - बेटी की शादी से एक दिन पहले पिता ने की आत्महत्या, फिर जो हुआ वो मिसाल बन गया...

यह घटना पिछले महीने पालघर जिले के एक गांव में हुई थी, जिसमें में दो साधुओं समेत तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में 18 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. Also Read - Cyclone Nisarga: महाराष्ट्र में हवाओं की रफ़्तार हुई कम, कमज़ोर पड़ा तूफान निसर्ग

सीआईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस मामले की जांच जबसे सीआईडी को सौंपी गई है, तब से विभाग ने 134 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. Also Read - Cyclone Nisarga: महाराष्ट्र से टकराया 'निसर्ग' तूफान, कई जगहों पर तेज हवा और बारिश शुरू

इस हालिया गिरफ्तारी से अब तक इस मामले में गिरफ्तार होने वाले लोगों की संख्या 134 तक पहुंच चुकी है. इससे पहले पालघर पुलिस ने 110 लोगों को गिरफ्तार किया था, जिसमें से नौ नाबालिग भी हैं. यह घटना 16 अप्रैल को गडचिंचले गांव में हुई थी. दो साधु मुंबई से एक कार से अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने सूरत जा रहे थे. उनका ड्राइवर भी उनके साथ था.

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए सभी आरोपी हिंसा और आगजनी की घटना में सक्रिय रूप से शामिल थे. गांव में एक भीड़ ने उन्हें रोका और बच्चा चोर होने के संदेह में पीट-पीटकर हत्या कर दी. यहां तक कि घटनास्थल पर कुछ पुलिसकर्मी भी पहुंच चुके थे.

इससे पहले एक अधिकारी ने बताया कि कुछ आरोपी गांव से घने जंगल में भाग गए थे. पुलिस ने इन्हें पकड़ने के लिए ड्रोन का सहारा लिया. इस मामले में गिरफ्तार एक व्यक्ति इस महीने की शुरुआत में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था, जिसे अस्पताल में भर्ती किया गया.