सतारा: राकांपा प्रमुख शरद पवार ने शुक्रवार की शाम भारी बारिश के बीच पश्चिमी महाराष्ट्र के सतारा में रैली को संबोधित किया. यहां 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के साथ लोकसभा उपचुनाव भी होना है. बारिश में पूरी तरह भीगे पवार (78) ने अपने संक्षिप्त भाषण के दौरान कहा कि उन्होंने इस साल की शुरुआत में हुए लोकसभा चुनाव में उम्मीवारों के चयन में “एक गलती” की लेकिन अब लोग उस गलती को सुधारने का इंतजार कर रहे हैं.

राकांपा ने लोकसभा चुनाव में सतारा संसदीय क्षेत्र से शिवाजी महाराज के वंशज उदयनराजे भोसले को उम्मीदवार बनाया था और उन्हें जीत मिली थी. लेकिन भोसले विधानसभा चुनाव से पहले राकांपा छोड़ भाजपा में शामिल हो गए. अब वह भाजपा के टिकट पर यहां से उपचुनाव लड़ रहे हैं. राकांपा ने भोसले के खिलाफ श्रीनिवास पाटिल को उम्मीदवार बनाया है.

पवार ने सभा में कहा कि इंद्रदेव ने 21 अक्टूबर को होने वाले चुनाव के लिए राकांपा को आशीर्वाद दिया है. और इंद्र देव के आशीर्वाद से सतारा जिला महाराष्ट्र में एक चमत्कार करेगा. वह चमत्कार 21 अक्टूबर से शुरू होगा. इसके अलावा उन्होंने कहा कि जब कोई गलती करता है, तो उसे स्वीकार करना चाहिए. मैंने लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार का चयन करते समय एक गलती की. मैं इसे सार्वजनिक रूप से स्वीकार करता हूं. लेकिन मुझे खुशी है कि गलती को सुधारने के लिए, सतारा का हर युवा और बुजुर्ग 21 अक्टूबर का इंतजार कर रहा है.