नई दिल्‍ली: शिवसेना नेता संजय राउत से जुबानी जंग के बीच बॉलीवुड एक्‍ट्रेस कंगना रनौत ने आज महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के बयान पर अपना ड्रग टेस्‍ट कराने की मांग की है, जिसमें गृह मंत्री ने एक्‍ट्रेस के खिलाफ ड्रग कनेक्‍शन की जांच कराने की बात कही है. Also Read - 'केदारनाथ' का क्लाइमैक्स सुन रो पड़े थे सुशांत और अब .....

बता दें क‍ि कंगना रनौत बनाम महाराष्ट्र सरकार की मौजूदा लड़ाई में राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने मंगलवार को एक्‍ट्रेस के उस कथित बयान पर जांच के आदेश दिए, जिसमें उन्होंने कहा था कि वह ड्रग्स का सेवन करती हैं. Also Read - मैं निर्दोष हूं, 'विच-हंट' का का शिकार हुई: रिया चक्रवर्ती ने बेल रिट में हाईकोर्ट से कहा

कंगना ने कहा, ” मैं मुंबई पुलिस और गृह मंत्री अनिल देशमुख को उपकृत करने से ज्यादा खुश हूं. कृपया मेरे ड्रग टेस्ट, मेरे कॉल रिकॉर्ड की जांच करें यदि आपको ड्रग पेडलर्स के लिए कोई लिंक मिलता है तो मैं अपनी गलती स्वीकार करूंगी और हमेशा के लिए मुंबई छोड़ दूंगी, आपसे मिलने के लिए उत्सुक. Also Read - फिल्म निर्माता मधु मंटेना का बयान दर्ज कर रही एनसीबी

महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने आज कहा है, ”हमारे विधायक सुनील प्रभु और प्रताप सरनाईक ने विधानसभा में मुझे आज जो निवेदन किया उसके जवाब में मैंने बोला कि कंगना रनौत की शेखर सुमन के लड़के अध्ययन सुमन से दोस्ती थी और अध्ययन सुमन ने डीएनए के एक इंटरव्यू में बताया कि कंगना रनौत ड्रग लेती है.

गृह मंत्री देशमुख ने कहा, हमारे विधायक सुनील प्रभु और प्रताप सरनाईक ने विधानसभा में मुझे आज जो निवेदन किया उसके जवाब में मैंने बोला कि कंगना रनौत की शेखर सुमन के लड़के अध्ययन सुमन से दोस्ती थी और अध्ययन सुमन ने डीएनए के एक इंटरव्यू में बताया कि कंगना रनौत ड्रग लेती है.

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शेखर सुमन के बेटे का जिक्र करते हुए कहा, ” मुझे (अध्ययन सुमन को) भी उन्होंने कई बार जबरन ड्रग देने की कोशिश की. इसकी पूरी जानकारी मुंबई पुलिस लेगी.”

बता दें कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद कंगना ने कहा था कि उन्हें मुंबई पुलिस से डर लगता है और उन्होंने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थी. रनौत ने ट्वीट किया था, ”मुंबई में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर जैसा महसूस क्यों हो रहा है?” उन्होंने एक सितंबर की एक खबर भी टैग की थी, जिसमें राउत ने कथित रूप से कहा था कि रनौत को यदि मुंबई पुलिस से डर है तो उन्हें मुंबई वापस नहीं आना चाहिए. शिवसेना के राज्यसभा सदस्य ने महाराष्ट्र सरकार से मुंबई पुलिस को बदनाम करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की थी.