नई दिल्ली: कोरोना वायरस पर कुछ लगाम लगी है. महाराष्टर में कुछ कहर कम हुआ है, इसी का असर है कि अब पाबंदियों से रोक हट रही है. धीरे-धीरे सब चीज़ों को अनुमति है. स्कूल-कॉलेज बंद होने के साथ ही अब सिर्फ भीड़ वाले कार्यक्रमों पर रोक है. महाराष्ट्र में भी सरकार अब कई चीज़ों पर लगी रोक हटा रही है. इसी क्रम में लोकल ट्रेन भी चलाने की अनुमति दे दी है. इतना ही नहीं इन ट्रेनों में लोगों और महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्राइवेट गार्ड्स भी मौजूद रहेंगे. Also Read - दिल्ली वालों को बड़ी राहत: कोरोना टेस्ट के लिए नहीं देने होंगे रुपए, गृह मंत्रालय ने लिया फैसला

महाराष्ट्र सरकार ने प्राइवेट गार्ड्स को भी लोकल ट्रेनों में सफर की इज़ाज़त देने का फ़ैसला किया है. हाल ही महिलाओं को लोकल ट्रेन में सफर की अनुमति देने के बाद महाराष्ट्र सरकार ने ये फैसला किया है. महाराष्ट्र सरकार ने इस बारे में सेंट्रल और वेस्टर्न रेलवे के जनरल मैनेजर को चिट्ठी लिखकर गुज़ारिश की है. सरकार ने चिट्ठी में लिखा गया है कि यूनिफार्म धारी और आई-कार्ड्स के साथ प्राइवेट गार्ड्स को मुंबई और मुंबई मेट्रोपोलिटन एरिया में लोकल ट्रेनों में सफर की इज़ाज़त दी जाए. Also Read - कोरोना वायरस: दिल्ली से यूपी आने वाले लोगों का होगा टेस्ट, संक्रमण रोकने को योगी सरकार का फैसला

बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस अब तक 42 हज़ार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि 15 लाख से अधिक लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं. देश में कोरोना वायरस से संक्रमित होने से मरने वालों की तादाद एक लाख 13 हज़ार से अधिक हो गई है. Also Read - Ahmedabad Curfew: अहमदाबाद में कोरोना से बिगड़े हालात, रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक का कर्फ्यू लागू, जानें डिटेल