कई सालों पहले राज कपूर जी की एक फिल्म आई थी संगम। उस फिल्म का एक गाना ‘दोस्त-दोस्त ना रहा, प्यार-प्यार ना रहा, ज़िन्दगी हमें तेरा ऐतबार ना रहा।’ यह गाना वैसे तो काल्पनिक था मगर पुणे में एक व्यक्ति के साथ बिलकुल ऐसा ही हुआ। वहाँ एक बर्तन के व्यापारी के साथ कुछ ऐसा हुआ जिससे उसका शायद दोस्ती पर से भरोसा ही खत्म हो गया होगा। उस बर्तन व्यापारी ने जिसे अपना दोस्त समझा था उसी ने धोखा देकर उसकी पत्नी के साथ रिश्ता जोड़ लिया। यह भी पढ़े- मुंबई: फिल्मों में रोल देने के बहाने प्रोडूसर ने की महिला के साथ की गलत हरकत

एक अंग्रेजी अख़बार के अनुसार पुणे के शुक्रवार पेठ में रहने वाले व्यापारी ने राजेश मेहता को अपना मित्र समझा था और वह उसे अपने घर ले जाने लगा। उसी समय व्यापारी और मेहता के बीच अफेयर हो गया। फिर क्या था व्यापारी जब भी घर में नहीं होता मेहता पहुँच जाता। दोनों साथ में वक्त बिताते और पति को कानो-कान खबर नहीं होती।

व्यापारी को इस बात की खबर उस वक्त लगी जब उसके घर के बाहर पहरा देने वाले सिक्योरिटी ने उसे बताया की उसके नहीं रहने पर मेहता हमेशा घर आता है। व्‍यापारी को शक हुआ कि उसकी पत्‍नी का उसके दोस्‍त के अवैध संबंध हैं जिसके बाद उसने मेहता के घर पर आने पर रोक लगाई और उसे धमकाया भी। मगर दोनों के बीच संबंध बरकरार रहे। मेहता लड़कियों के कपडे पहनकर व्यापारी के घर जाने लगा और उसकी पत्नी से मिलने लगा।

पिछले बुधवार को भी ऐसा ही हुआ। जब व्यापारी जिम से वापस लौटकर आराम कर रहा था तब उसे एहसास हुआ की कोई उसे बेहोश करने की कोशिश कर रहा है। व्यापारी और उस व्यक्ति के बीच झड़प भी हुई। वह फ़ौरन अपने पत्नी के पास दौड़ा और उससे इस बारे में पूछताछ की। जब वह पलटकर रूम में आया तो उसने देखा की मेहता लड़कियों की नाईट गौण पहनकर भाग रहा है। व्यापारी ने पुलिस में शिकायत की जिसके बाद पुलिस ने मेहता के खिलाफ विभिन्‍न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है और गिरफ्तार कर लिया।