पुणे: महाराष्ट्र में पुणे के निकट मुंबई-पुणे एक्सप्रेस-वे पर सड़क हादसे में पुणे के नामी डॉक्‍टर और उनके कैब चालक की मौत हो गई और दो अन्य डॉक्‍स घायल हो गए. घटना रविवार रात करीब साढ़े दस बजे सोमाताने गांव के निकट हुई, जब रीढ़ की हड्डी के  विशेषज्ञ डॉक्टर केतन खुरजेकर (44) और दो अन्य हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉक्‍टर एक कैब से मुंबई से पुणे लौट रहे थे. हादसे में कैब  ड्राइवर की भी मौत हो गई और तीन साथी डॉक्‍टर भी घायल हो गए.

बता दें कि गोल्ड मेडलिस्ट खुरजेकर संचेती अस्पताल में रीढ़ की हड्डी के मेडिकल डिपार्टमेंट के प्रमुख थे. वह लगभग 3,500 पेचीदा सर्जरी कर चुके थे.

तलेगांव दाभाड़े पुलिस थाने के निरीक्षक किशोर म्हासावड़े ने बताया कि घटना रविवार रात करीब साढ़े दस बजे सोमाताने गांव के
निकट हुई, जब रीढ़ की हड्डी के विशेषज्ञ डॉक्टर केतन खुरजेकर (44) और दो अन्य हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉक्‍टर एक कैब से मुंबई से
पुणे के रास्ते में थे. उन्होंने कहा कि जब कैब सोमाताने गांव पहुंची तो चालक ने पंक्चर हुए पहिये को बदलने के लिए वाहन सड़क किनारे रोक दिया.  सभी लोग वाहन से बाहर आ गए और खुरजेकर चालक की मदद करने लगे.

अधिकारी ने कहा कि जब कैब चालक पहिये को बदल रहा था तो उसी ओर से आ रही एक निजी बस ने उन सभी को पीछे से टक्कर
मार दी. उन्होंने कहा कि खुरजेकर और कैब चालक दयानेश्वर भोंसले (27) की घटनास्थल पर ही मौत हो गई.

अधिकारी ने बताया कि दो अन्य डॉक्‍टरों को चोटें लगी हैं, उन्हें इलाज के लिए संचेती अस्पताल में भर्ती कराया गया है. गोल्ड
मेडलिस्ट खुरजेकर संचेती अस्पताल में रीढ़ की हड्डी के चिकित्सा विभाग के प्रमुख थे और वह लगभग 3,500 पेचीदा सर्जरी कर चुके थे.