नई दिल्लीः एक तरफ महाराष्ट्र में कोरोना परेशानी का सबब बना हुआ है तो वहीं दूसरी तरफ लगातार साधुओं की हत्या की खबरें भी परेशान करने वाली हैं. पालघर में दो साधुओं और उनके ड्राइवर की हत्या का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि अब नांदेड़ में एक साधु की हत्या का मामला सामने आया है. मृतक साधु का नाम बाल ब्रम्हचारी शिवाचार्य बताया जा रहा है. जिसके बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया है. नांदेड़ के आश्रम में लिंगायत समुदाय के एक साधु की हत्या ने फिर महाराष्ट्र की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं.Also Read - Republic Day 2022: अगर LIVE नहीं देख पाए तो यहां तस्वीरों में देखें अपने राज्य की झांकी

मिली जानकारी के मुताबिक, शिवाचार्य के साथ ही बदमाशों ने एक और शख्स की हत्या कर दी है. जिसका शव शिवाचार्य के शव के पास ही मिला है. मृतक का नाम भगवान शिंदे बताया जा रहा है. मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों के शव कब्जे में ले लिए हैं और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं. बताया जा रहा है कि दोनों की हत्या के बाद बदमाशों ने गाड़ी लेकर भागने की कोशिश की थी, लेकिन बाद में छोड़कर ही चले गए. Also Read - Maharashtra: नासिक में ऑनलाइन क्लास के लिए मोबाइल नहीं होने पर 11वीं की छात्रा ने की खुदकुशी

शिवाचार्य की हत्या के बाद एक बार फिर बीजेपी ने उद्धव सरकार के नेतृत्व पर सवाल खड़े किए हैं. बीजेपी नेता और प्रवक्ता राम कदम ने कहा कि, ‘महाराष्ट्र में एक महीने के अंतराल में ही एक बार फिर साधु की हत्या कर दी गई. पहली बार हुई साधुओं की हत्या को अफवाह करार देने के बाद महाराष्ट्र सरकार ने बचने की कोशिश की थी, लेकिन सच तो यह है कि महाराष्ट्र सरकार पूरी तरह से फेल हो चुकी है. जिस तरह से राज्य में साधु-संतों की हत्या हो रही है, उससे साफ है कि राज्य में साधु सुरक्षित नहीं हैं.’ Also Read - Delhi, Mumbai में घटी कोरोना की रफ्तार, कर्नाटक में बड़ी संख्‍या में आए केस, देखें अपने राज्य का अपडेट