Sakinaka rape case क्रूरतापूर्ण दुष्कर्म की शिकार 30 वर्षीय महिला की अस्पताल में अत्यधिक रक्तस्राव के बाद मौत हो गई, जिससे सियासी बवाल मच गया है. शिवसेना एमएलसी डॉ मनीषा कायंडे ने बताया, “यह दुखद अंत है. उन्हें बहुत गंभीर आंतरिक चोटें आई थीं और उनका निधन हो गया.” उन्होंने कहा कि पीड़िता की दो नाबालिग बेटियां हैं और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से महिलाओं के लिए सरकारी योजनाओं के तहत उनके लिए मुआवजे पर विचार करने की अपील की.Also Read - Maharashtra News: महाराष्ट्र में कोरोना की तीसरी लहर को लेकर राजेश टोपे का बड़ा बयान- जानें क्या दिया अपडेट...

वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने साकीनाका रेप केस का ट्रायल फास्ट ट्रैक कोर्ट में कराने का आदेश दिया है. उन्होंने कहा कि मुंबई के साकीनाका क्षेत्र में एक महिला के साथ बलात्कार और उसके बाद उसकी मौत मानवता का बड़ा अपमान है. सीएम ने कहा कि इसके दोषी को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी. उद्धव ठाकरे ने इस मामले में राज्य के गृह मंक्षी वलसे पाटील और मुंबई पुलिस कमिश्नर हेमंत नगराले से बात की. Also Read - BJP नेता किरीट सोमैया को कोल्‍हापुर पहुंचने से पहले सतारा जिले के कराड रेलवे स्‍टेशन में हिरासत में लिया गया

शुक्रवार की सुबह हुई इस घटना से पूरे राज्य में आक्रोश फैल गया और शनिवार को राष्ट्रीय महिला आयोग ने इस पर संज्ञान लिया. पुलिस उपायुक्त (जोन एक्स) डॉ महेश्वर रेड्डी ने कहा कि शुक्रवार तड़के पुलिस को एक नागरिक का फोन आया जिसमें एक पुरुष और एक महिला के बीच विवाद की सूचना मिली. Also Read - ISI Terror Module: ओसामा के चाचा ने प्रयागराज में सरेंडर किया, देश में पूरे आतंकी नेटवर्क को को-ऑर्डिनेट कर रहा था

डॉ रेड्डी ने कहा, “कॉल करने वाले ने कहा कि वह आदमी महिला की पिटाई कर रहा था और उसने तत्काल मदद भेजने का अनुरोध किया. एक पुलिस दल लगभग 10 मिनट में वहां पहुंचा और महिला को गंभीर चोटों और अत्यधिक खून बहने के साथ एक टेंपो पर पड़ा पाया.”

पुलिस उसे राजावाड़ी अस्पताल ले गई, और एक अभियान में, घटना के कुछ घंटों के भीतर आरोपी मोहन चव्हाण को पकड़ने में कामयाब रही. इस घटना ने महा विकास अघाड़ी के सहयोगी शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, कांग्रेस और विपक्षी भारतीय जनता पार्टी की चौतरफा निंदा की.

गृह मंत्री दिलीप वलसे-पाटिल ने आश्वासन दिया कि आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी, जबकि भाजपा नेता चित्रा वाघ ने राज्य सरकार द्वारा बनाए गए शक्ति अधिनियम की वर्तमान स्थिति जानने की मांग की.

(इनपुट आईएएनएस)