मुंबई: शिवसेना नेता संजय राउत ने शुक्रवार को सवाल किया कि क्या देश में कोरोना वायरस की महमारी के बीच बिहार में विधानसभा चुनाव कराना उचित है? राउत ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि महामारी की वजह से देश में ऐसी स्थिति उत्पन्न हुई है जो पहले कभी नहीं थी. उन्होंने सवाल किया, ‘‘ क्या अब कोरोना वायरस की महमारी समाप्त हो गई है? क्या चुनाव कराने के लिए स्थिति ठीक है?’’Also Read - Coronavirus Cases: एक दिन में कोरोना से 2.58 लाख लोग हुए संक्रमित, 385 लोगों की मौत

उल्लेखनीय है कि निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा कर दी. इसके मुताबिक राज्य में तीन चरण -28 अक्टूबर, तीन नवंबर और सात नवंबर- को मतदान होगा जबकि मतगणना 10 नवंबर को कराई जाएगी. राउत ने कहा कि संसद से पारित कृषि विधेयकों का बिहार के चुनावों पर असर नहीं होगा क्योंकि राज्य में ‘‘केवल जाति और धर्म के आधार पर मतदान होगा.’’ Also Read - Coronavirus Update: WHO ने फिर चेताया, कहा- 'कोरोना वायरस कभी भी पूरी तरह से समाप्त नहीं होगा लेकिन...'

बिहार चुनाव में सुशांत सिंह राजपूत की मौत का मुद्दा बनने के सवाल पर शिवसेना सांसद ने आरोप लगाया, ‘‘सरकार के पास विकास या सुशासन के बारे में बोलने के लिए कुछ नहीं है.’’ sउन्होंने कहा, ‘‘ सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की सीबीआई जांच का क्या हुआ? बिहार के पुलिस महानिदेशक ने इस्तीफा दे दिया और अब विधानसभा चुनाव लड़ने जा रहे हैं. Also Read - रक्षा मंत्री Rajnath Singh के बेटे और Noida से विधायक Pankaj Singh कोरोना वायरस से संक्रमित

गौरतलब है कि बिहार के पूर्व पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडे, सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की सीबीआई जांच करने की मांग के बाद से ही महाराष्ट्र की गैर भाजपा पार्टियों के निशाने पर हैं. गत मंगलवार रात को पद छोड़ उन्होंने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली जिससे उनके चुनाव में उतरने के कयास लगाए जा रहे हैं.

(इनपुट भाषा)