नई दिल्लीः देश में कोरोना वायरस की मार सबसे अधिक महाराष्ट्र पर पड़ी है. कोरोना वायरस संक्रमित राज्यों की संख्या पर महाराष्ट्र में पहले पायदान पर. महाराष्ट्र में इस समय साढ़े चौदह हजार से अधिक लोग कोरोना वायरस की चपेट में हैं. राज्य में अकेले मुंबई में करीब 9000 लोग इससे संक्रमित हैं. मुंबई में बढ़ रही कोरोना संक्रमित लोगों की तादात को देखते हुए अब राज्य सरकार ने 17 मई तक धारा 144 लागू कर दी है. Also Read - दिल्ली में कोरोना का नया रिकॉर्ड, 1 दिन में 1163 नए मामले सामने आए

महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में 771 कोरोना संक्रमित लोगों की पुष्टि हुई है जबकि 35 लोगों ने अपनी जान गंवाई है. अगर मुंबई के आंकड़ों पर नजर डालें तो चौबीस घंटे में आर्थिक राजधानी में 510 नए मामले सामने आए हैं. उद्धव सरकार के लिए मुंबई लगाता एक बड़ी परेशानी बनी हुई है. हालत दिन पर दिन बेकाबू होते जा रहें हैं. Also Read - अरब सागर के ऊपर तूफान सक्रिय, 3 जून तक गुजरात, महाराष्ट्र में देगा दस्तक

आपको बता दें कि पूरे राज्य के आधे से अधिक मामले अकेले मुंबई से होने की वजह से पूरे मुंबई को रेड जोन में रखा गया है. निषेधज्ञा लागू करने की जानकारी देते हुए एक अधिकारी ने बताया कि लगातार बढ़ते मामले की वजह से मुंबई में आगामी 17 मई तक धारा 144 लागू रहेगी. उन्होंने बताया कि इस दौरान एक स्थान पर भीड़ इकट्ठा करने पर पाबंदी रहेगी. Also Read - जानवरों से इंसानों में कैसे पहुंचा कोरोना वायरस, आखिरकार रिसर्च में हुआ खुलासा

आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी के लिए सुबह सात बजे से लेकर रात आठ बजे तक का समय तय किया गया है लेकिन इस दौरान सभी लोगों को सामाजिक दूरी का पालन करना जूरूरी होगा और साथ ही चेहरे पर मास्क पहनना भी आवश्यक है.