मुंबई: महाराष्‍ट्र की राजधानी की मुंबई पुलिस ने बुधवार को ओशिवारा इलाके की पाटलीपुत्र सोसाइटी में एक फ्लैट पर छापा मारकर देह-व्यापार के एक गिरोह का पर्दाफाश करने का दावा किया. सोसाइटी में अधिकतर फ्लैट हाईप्रोफाइल आईएएस, आईपीएस और सीनियर नौकरशाहों के हैं.

ओशिवारा थाने के एक अधिकारी ने बताया कि दो युवतियों को मुक्त कराया गया है, जबकि बिचौलिए के तौर पर काम करने वाली एक महिला को गिरफ्तार किया गया. गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस की एक टीम ने मंगलवार देर रात आवासीय परिसर में गैलेक्सी बिल्डिंग के एक फ्लैट पर छापा मारा और 21 और 19 साल की दो युवतियों को मुक्त कराने के साथ ही नकदी जब्त की.

पुलिस ने बताया कि देह व्यापार में बिचौलिए का काम करने वाली शबाना शेख (45) को अनैतिक व्यापार रोकथाम कानून के तहत गिरफ्तार किया गया. उसे बुधवार को एक अदालत में पेश गया और पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.

मुक्त कराई गई युवतियों को सुधार गृह में भेज दिया गया है. आगे जांच की जा रही है.

हाईप्रोफाइल सोसाइटी में देह व्यापार उजागर होने का यह कोई पहला मामला नहीं है. जून 2014 में पुलिस की समाज सेवा शाखा ने पाटलीपुत्र सोसाइटी में एक फ्लैट पर छापा मारा था. यह फ्लैट भाजपा सांसद और मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त सत्यपाल सिंह का था, जिसे उन्होंने किराए पर उठा रखा था.