नागपुरः राकांपा प्रमुख शरद पवार ने बुधवार को कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का केन्द्र पर ‘‘जलियांवाला बाग फिर से’’ संबंधी कटाक्ष इस बात का संकेत है कि शिवसेना, उनकी पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन ‘‘सही रास्ते’’ पर हैं. ठाकरे ने संशोधित नागरिकता अधिनियम के खिलाफ दिल्ली में विरोध प्रदर्शन के दौरान जामिया मिल्लिया इस्लामिया में छात्रों पर पुलिस कार्रवाई की तुलना जलियांवाला बाग हत्याकांड से की थी.

पवार ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘अगर उन्होंने ऐसा कहा है, तो ऐसा लगता है कि हम सही रास्ते पर हैं और हमारी सरकार लंबे समय तक चलेगी.’’ उन्होंने यह भी कहा कि राज्य के अधिकांश स्थानीय निकाय चुनावों में, तीन दलों के स्थानीय कार्यकर्ताओं के सीट-बंटवारे पर सहमति दिखाई देती है.

उन्होंने कहा कि हमारा गठबंधन बहुत मजबूत है और यह सरकार पूरे पांच साल चलेगी. आपको बता दें कि महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा था कि जामिया मिलिया इस्‍लामिया में जो हुआ वह जलियांवाला बाग जैसा है. छात्र एक युवा बम हैं. इसलिए हम केंद्र सरकार से रिक्‍वेस्‍ट करते हैं कि वह न करें, जो वह छात्रों के साथ कर रही हैं.

ठाकरे ने इस पर कहा, यह समाज में अशांति का माहौल बनाने का सोचा-समझा प्रयास है. जिस प्रकार से पुलिस ने परिसर में जबरदस्ती घुसकर छात्रों पर फायरिंग की, वह जलियांवाला बाग हत्याकांड के जैसा प्रतीत होता है. शिवसेना प्रमुख व सीएम ने कहा, ”युवा किसी बम की तरह हैं जिसमें विस्फोट नहीं होना चाहिए. मेरा प्रधानमंत्री से यह विनम्र अनुरोध है.”