मुंबई: अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति और कारोबारी राज कुंद्रा दिवंगत गैंगस्टर इकबाल मिर्ची और अन्य के खिलाफ चल रही धन शोधन मामले की जांच के सिलसिले में बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश हुए. अधिकारियों ने कहा कि कुंद्रा सुुबह लगभग 11 बजे यहं बलार्ड पियर क्षेत्र में प्रवर्तन निदेशालय के कार्यालय में पहुंचे.

एजेंसी ने राज कुंद्रा को 4 नवंबर को पेश होने के लिए कहा था, लेकिन समझा जाता है कि उन्होंने उस दिन कुछ जरूरी काम के कारण उससे पहले की कोई तारीख मांगी थी. ऐसी संभावना है कि एजेंसी धनशोधन की रोकथाम कानून के तहत उनका बयान दर्ज करेगी.

मामले में कार्यवाही धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के आपराधिक प्रावधान के तहत की जा रही है. केंद्रीय जांच एजेंसी इस मामले के सिलसिले में रंजीत बिंद्रा और बैस्टियन हॉस्पिटैलिटी नामक एक फर्म के साथ कुंद्रा के सौदे की जांच कर रही है.

अधिकारी ने बताया कि दोनों के बीच हुए कुछ व्यापारिक करारों की विस्तृत जानकारी की जरूरत है और इसलिए समन जारी किया गया है. पीएमएलए मामला मुंबई पुलिस की कई प्राथमिकियों पर आधारित है और ईडी ने पिछले कुछ महीनों में जांच के सिलसिले में कई छापे मारे हैं. बिंद्रा को कुछ समय पहले इस मामले में एजेंसी ने गिरफ्तार किया था.

कुंद्रा इससे पहले इन व्यावसायिक सौदों में किसी भी गलत काम से इनकार कर चुके हैं. बिटकॉइन घोटाला मामले के सिलसिले में पिछले साल भी इसी तरह एजेंसी ने व्यवसायी से पूछताछ की थी.

2013 में लंदन में मारे गए गैंगस्टर इकबाल मिर्ची पर वैश्विक आतंकवादी दाऊद इब्राहिम के लिए मादक पदार्थों की तस्करी और जबरन वसूली करने का आरोप है. ईडी ने मिर्ची, उसके परिवार और अन्य के खिलाफ मुंबई में महंगी अचल संपत्ति की खरीद और बिक्री में कथित अवैध लेनदेन के लिए धन शोधन के आरोपों की जांच के लिए एक आपराधिक मामला दर्ज किया है.