मुंबई: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा कि जो वीर सावरकर का सम्मान नहीं करते उन्हें बीच चौराहे पर सबके सामने पीटा जाना चाहिए. उन्होंने यह टिप्पणी तब की जब एक दिन पहले कांग्रेस की छात्र इकाई ने दावा किया कि उसने दिल्ली विश्वविद्यालय में स्वतंत्रता सेनानी की आवक्ष प्रतिमा पर कालिख पोत दी.

 

ठाकरे ने कहा कि सावरकर का अपमान करने वाले लोगों की सार्वजनिक पिटाई से उन्हें आजादी की कीमत पता चलेगी. महाराष्ट्र में सावरकर को काफी सम्मान प्राप्त है. उन्होंने यहां पत्रकारों से कहा कि जो लोग सावरकर का सम्मान नहीं करते उन्हें बीच चौराहे पर सबके सामने पीटा जाना चाहिए. ऐसा करने से ही उन्हें अहसास होगा कि देश को आजादी दिलाने के लिए किसने कितनी मेहनत की थी. उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने सावरकर का अपमान किया है वे तब तक आजादी की कीमत नहीं समझेंगे. राहुल गांधी ने भी सावरकर का अपमान किया था.

कांग्रेस से जुड़े भारतीय राष्ट्रीय छात्र संघ (एनएसयूआई) ने बृहस्पतिवार को कहा था कि उसने दिल्ली विश्वविद्यालय में एबीवीपी के नेतृत्व में दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) द्वारा स्थापित की गयी सावरकर की आवक्ष प्रतिमा पर कालिख पोत दी जबकि भगत सिंह और नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा पर माला चढ़ाई. डूसू ने मंगलवार को कला संकाय की इमारत के बाहर तीन आवक्ष प्रतिमाएं स्थापित की थीं.