मुंबई: महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने नवी मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बना रही मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लि. (एमआईएएल) का स्वामित्व अडाणी एयरपोर्ट होल्डिंग्स को हस्तांतरित किये जाने को मंजूरी दे दी. मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) ने एक बयान में कहा कि नये अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के लिये जमीन अधिग्रहण का काम पूरा हो गया है. यह हवाईअड्डा 1,160 हैक्टेयर क्षेत्र में बनेगा. हवाईअड्डे का पहला चरण 2023-24 तक पूरा होने की उम्मीद है.Also Read - Dolo की बिक्री बढ़ाने के लिए कंपनी ने डॉक्टरों को बांटे हजार करोड़, सुप्रीम कोर्ट भी दावे पर हैरान

बयान के अनुसार एमआईएएल का स्वामित्व बदल गया है. जीवीके एयरपोर्ट्स डेवलपर्स के 50.5 प्रतिशत शेयर थे जिसे अडाणी एयरपोर्ट होल्डिंग्स लि. ने खरीद लिया है. स्वामित्व में बदलाव को केंद्र सरकार, भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड और अन्य ने मंजूरी दे दी है. Also Read - Sanjay Manjrekar: 'भुवी का यंगर वर्जर हैं दीपक चाहर, दोनों में केवल ये एक अंंतर'

एक अन्य मामले में मंत्रिमंडल ने 285 करोड़ रुपये की मराठवाड़ा जल ग्रिड परियोजना के पहले चरण को मंजूरी दी. यह परियोजना औरंगाबाद जिले के पैठण तालुका में जयकवाड़ी बांध से शुरू होगी. इसमें औरंगाबाद जिला और मराठवाड़ा अंचल के अन्य तालुका को जल उपलब्धता के आधार पर जल उपलब्धता के आधार पर इस परियोजना में जोड़ने के लिए प्रस्ताव लाया जाएगा. राज्य का जल संसाधन विभाग पश्चिम-प्रवाही नदियों के जल को मोड़ कर गोदावरी घाटी में पहुंचाने की संभावना का भी अध्ययन कर रहा है. Also Read - पश्चिम बंगाल के इस जिले में 15 अगस्त नहीं, आज मनाया गया स्वतंत्रता दिवस, जानें वजह