नई दिल्‍ली: सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में तेजी से बढ़ रही सीबीआई जांच की मांग और बिहार पुलिस के द्वारा महाराष्‍ट्र पुलिस पर लगाए गए असहयोगात्‍मक रवैये के आरोपों के बीच महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि कृपया इस मामले को महाराष्ट्र और बिहार के बीच टकराव पैदा करने के बहाने के रूप में उपयोग न करें. सीएम ठाकरे ने कहा, इस मामले में राजनीति को लाना सबसे दुस्साहसी काम है. Also Read - Video पोस्‍ट कर कंगना रनौत बोलीं- वी वांट CBI फॉर सुशांत सिंह राजपूत

बता दें कि कल शुक्रवार को बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ट्वीट किया था, ”मुंबई पुलिस सुशांत की मौत के मामले में बिहार पुलिस की निष्पक्ष जांच के रास्ते में रुकावट डाल रही है. बिहार पुलिस पूरी कोशिश कर रही है, लेकिन मुंबई पुलिस सहयोग नहीं कर रही है. भाजपा को लगता है कि यह मामला सीबीआई को अपने हाथ में ले लेना चाहिए. Also Read - माजिद मेमन का सुशांत सिंह राजपूत पर ट्वीट, NCP ने किया किनारा, BJP ने साधा निशाना

सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले में पटना में दर्ज प्राथमिकी मुंबई स्थानांतरित करने के लिए अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती की याचिका में बिहार सरकार के बाद शुक्रवार को महाराष्ट्र सरकार ने कैविएट दाखिल की थी. महाराष्ट्र सरकार ने भी न्यायालय से अनुरोध किया है कि इस याचिका पर कोई भी आदेश देने से पहले उसका पक्ष भी सुना जाए. Also Read - बिहार में विकास हुआ फेल, तो सुशांत के सहारे चुनावी नैया पार करने की कोशिश: शिवसेना


बिहार सरकार और सुशांत सिंह राजपूत के पिता द्वारा न्यायालय में कैविएट दाखिल किये जाने के बाद महाराष्ट्र सरकार के इस कदम का मकसद यह सुनिश्चित करना है कि रिया चक्रवती की स्थानांतरण याचिका पर उसका पक्ष सुने बगैर कोई भी आदेश नहीं दिया जाए.

बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के सिलसिले में उनके पिता द्वारा पटना में दर्ज करायी गई प्राथमिकी मुंबई स्थानांतरित करने के लिये अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती की याचिका में गुरुवार को बिहार सरकार ने न्यायालय में कैविएट दायर की थी.

बिहार सरकार ने भी अपने आवेदन में न्यायालय से अनुरोध किया है कि रिया चक्रवर्ती की याचिका पर कोई भी आदेश देने से पहले उसका पक्ष भी सुना जाए. इससे पहले, सुशांत सिंह राजपूत के पिता कृष्ण किशोर सिह ने भी अधिवक्ता नितिन सलूजा के माध्यम से न्यायालय में कैविएट दायर की थी. उन्होंने भी इस मामले में उन्हें नोटिस दिए बगैर कोई कार्यवाही नहीं करने का अनुरोध न्यायालय से किया है.

बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने 29 जुलाई को शीर्ष अदालत में दायर याचिका में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोपों को लेकर पटना में 24 जुलाई को दर्ज कराई गई एफआईआर मुंबई स्थानांतरित करने और बिहार पुलिस द्वारा की जा रही जांच पर रोक लगाने का अनुरोध किया है.

इस बीच, एक अन्य घटनाक्रम में सुप्रीम कोर्ट ने 30 जुलाई को बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच मुंबई पुलिस से लेकर सीबीआई को सौंपने के लिये दायर जनहित याचिका खारिज कर दी थी.

प्रधान न्यायाधीश एस.ए. बोबडे, न्यायमूर्ति ए.एस. बोपन्ना और न्यायमूर्ति वी रामासुब्रमणियन की पीठ ने कहा याचिका खारिज करते हुये कहा था कि मुंबई पुलिस को अपनी जांच करने दीजिए और अगर आपके पास कुछ है तो इसके लिए बंबई उच्च न्यायालय में याचिका दायर की जा सकती है.