पुणे: महाराष्ट्र के पुणे से एक शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है. यहां चलती ट्रेन में 26 वर्षीय युवक सागर मारकड की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. पुलिस ने बताया कि मृतक को पीटने वालों में 6 महिलाएं भी शामिल थीं. घटना की शुरुआत सीट मांगने को लेकर हुई. सागर मारकड ने अपनी पत्नी और दो साल की बेटी भी थी. सागर ने सीट पर बैठे लोगों से थोड़ा खिसकने को कहा ताकि उनकी पत्नी बैठ सके क्योंकि उनके साथ उनकी बेटी भी थी. इसी बात को लेकर विवाद हो गया और सागर की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. बता दें कि यह पूरी घटना मुंबई-लातुर-बिडार एक्सप्रेस की है.

राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) के एक अधिकारी ने बताया कि यह घटना बृहस्पतिवार तड़के महाराष्ट्र के पुणे और दौंड रेलवे स्टेशनों के बीच हुई. उन्होंने बताया कि सागर मारकड, उनकी पत्नी ज्योति, उनकी मां और दो वर्षीय बेटी रात में पौने एक बजे पुणे स्टेशन से ट्रेन के सामान्य डिब्बे में सवार हुए थे. अधिकारी ने कहा, ‘मृतक की पत्नी द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक डिब्बे में बहुत ज्यादा लोग थे और एक भी सीट खाली नहीं थी.’

मारकड ने एक महिला यात्री से थोड़ा खिसकने का आग्रह किया ताकि उनकी पत्नी बैठ जाए क्योंकि उनके साथ बच्ची भी थी. इसपर मामला इतना बढ़ गया कि महिला मारकड से झगड़ने लगी जिसके बाद 12 लोगों ने मारकड से मारपीट की. मारपीट करनेवालों में छह महिलाएं भी थीं. दौंड स्टेशन पर पुलिस ने मारकड को अस्पताल पहुंचाया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. मारकड का परिवार कल्याण का रहने वाला है. ये लोग सोलापुर के कुर्डिवाडी में एक रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में शामिल होने जा रहे थे. उन्होंने बताया कि भादंसं की धारा 302 (हत्या) और संबंधित प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.