मुंबई: दक्षिण मुंबई में रविवार को एक टेलीविजन पत्रकार पर उसके घर के नजदीक अज्ञात लोगों के एक समूह ने कथित तौर पर हमला कर दिया जिसमें वह घायल हो गया. एक निजी टीवी चैनल के लिए काम करने वाले हरमन गोम्स शनिवार देर रात टैक्सी में अपने एक दोस्त के साथ घर लौट रहे थे. उनका आरोप है कि हमलावरों ने उनके दोस्तों के मोबाइल फोन भी छीन लिए.

यूपी: बांदा में पत्रकारों की पिटाई का मामला पहुंचा राजभवन, सिटी मजिस्ट्रेट पर FIR की मांग

पुलिस पर हीला-हवाली का आरोप

पुलिस उपायुक्त (जोन-दो) डी चव्हाण ने बताया कि शनिवार देर रात करीब डेढ़ बजे वह कैब से उतरा. उसने देखा कि गामदेवी इलाके में उसके घर के नजदीक चार से छह लोग इंतजार कर रहे हैं. चव्हाण ने बताया कि लोगों ने गोम्स को गाली देनी शुरू कर दी और बाद में उस पर कथित तौर पर हमला किया.

बांदा के सिटी मजिस्ट्रेट ने पत्रकारों को पीटा, कमिश्नर ने तलब की रिपोर्ट

उन्होंने बताया कि हमले में पत्रकार घायल हो गया और उसकी शिकायत के आधार पर गामदेवी पुलिस ने बाद में भारतीय दंड संहिता की धारा 143 (गैर कानूनी तरीके से एकत्र होने), 147 (बलवा), 324 (घातक हथियारों से हमला करने) और अन्य संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया. उन्होंने बताया कि हमले के कारण का अभी तक पता नहीं चला है. उन्होंने बताया कि मामले की एक जांच चल रही है. शहर के पत्रकार संगठनों ने हमले की निंदा की और आरोप लगाया कि पुलिस ने पीड़ित की शिकायत तुरंत दर्ज नहीं की. (इनपुट एजेंसी)