मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शनिवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से कोल्हापुर के शिवाजी विश्वविद्यालय के नाम को विस्तार देने के लिये कानूनी प्रक्रिया शुरू करने का अनुरोध किया. मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सरकार चाहती है कि विश्वविद्यालय का नाम छत्रपति शिवाजी महाराज विश्वविद्यालय किया जाए.

 

कोश्यारी राज्य के विश्वविद्यालयों के कुलाधिपति हैं. ठाकरे ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज पूजनीय योद्धा हैं और उनका नाम आदर के साथ लिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि मुंबई हवाई अड्डे और और मध्य रेलवे के सीएसटी टर्मिनल का नाम भी उनके नाम पर रखा गया है, जिनमें ‘महाराज’ शब्द भी जोड़ा गया है. ठाकरे ने कहा कि उनकी सरकार उनको सम्मान देना चाहती है.

संभाजी का नाम छत्रपति संभाजी महाराज लिया जाना अनिवार्य
मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज सुधारक ज्योतिबा फुले का नाम महात्मा ज्योतिबा फुले और संभाजी का नाम छत्रपति संभाजी महाराज लिया जाना अनिवार्य किया जाएगा.