मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शनिवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से कोल्हापुर के शिवाजी विश्वविद्यालय के नाम को विस्तार देने के लिये कानूनी प्रक्रिया शुरू करने का अनुरोध किया. मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सरकार चाहती है कि विश्वविद्यालय का नाम छत्रपति शिवाजी महाराज विश्वविद्यालय किया जाए.Also Read - उद्धव ठाकरे को 22 दिनों के बाद अस्पताल से मिली छुट्टी, 'वर्क फ्रॉम होम' करेंगे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री

Also Read - Maharashtra Lockdown: महाराष्ट्र में फिर लगेंगी पाबंदियां? मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बोले- लॉकडाउन से बचने के लिए कोविड उपयुक्त व्यवहार अपनाएं

कोश्यारी राज्य के विश्वविद्यालयों के कुलाधिपति हैं. ठाकरे ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज पूजनीय योद्धा हैं और उनका नाम आदर के साथ लिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि मुंबई हवाई अड्डे और और मध्य रेलवे के सीएसटी टर्मिनल का नाम भी उनके नाम पर रखा गया है, जिनमें ‘महाराज’ शब्द भी जोड़ा गया है. ठाकरे ने कहा कि उनकी सरकार उनको सम्मान देना चाहती है. Also Read - 'Maharashtra में मार्च में सरकार का गठन करेगी BJP', केंद्रीय मंत्री Narayan Rane के इस बयान के क्या हैं मायने?

संभाजी का नाम छत्रपति संभाजी महाराज लिया जाना अनिवार्य
मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज सुधारक ज्योतिबा फुले का नाम महात्मा ज्योतिबा फुले और संभाजी का नाम छत्रपति संभाजी महाराज लिया जाना अनिवार्य किया जाएगा.